हेड कॉन्स्टेबल दीपक का अदम्य साहस !

उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान मौजपुर में पिस्टल थामे युवक से सामने लाठी लेकर खड़े दिल्ली पुलिस के एक जवान की तस्वीर खूब वायरल हुई। सोमवार (24) फरवरी को सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक निडर पुलिसकर्मी हाथ में पिस्टल लिए युवक के सामने सीना तानकर खड़ा दिख रहा है। लोग दिल्ली पुलिस के इस जवान की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। इस निडर पुलिसकर्मी का नाम है दीपक दहिया। दीपक दहिया ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अगर वह डरते तो कई लोगों की जान जा सकती थी। इसलिए पास में सिर्फ डंडा होने के बावजूद वह पिस्टल लहरा रहे युवक से भिड़ गए।

गोली मारने की धमकी दी थी
वीडियो में देखा जा सकता है कि युवक दीपक दहिया के एक दम करीब भी पहुंच गया था। उसने सामने से नहीं हटने पर गोली मारने की धमकी भी दी थी। उस समय अदम्य साहस का परिचय देते हुए दीपक दहिया ने उसे डंडे से इशारा कर वापस जाने के लिए कहने लगे। हिन्दुस्तान में छपी खबर के अनुसार, इस बीच पीछे से फायरिंग करने के लिए भीड़ युवक को उकसा रही थी। उसी दौरान दिल्ली पुलिस के अन्य जवानों ने दूसरी तरफ की भीड़ को तितर-बितर कर दिया।

सोनीपत के रहने वाले हैं दीपक दहिया
हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले दीपक दहिया दिल्ली पुलिस के थर्ड बटालियन में तैनात है। दस साल पहले 2010 में दीपक दहिया दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल पद पर भर्ती हुए थे। दहिया अभी वजीराबाद पीटीएस में हेड कांस्टेबल पद का प्रशिक्षण ले रहे हैं। उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुए बवाल के बीच उनकी तैनाती मौजपुर वैष्णो देवी मंदिर के पास थी।

पिस्टल तानने वाला गिरफ्तार
दिल्ली पुलिस के प्रवका मनदीप सिंह रंधावा (अतिरिक्त पुलिस आयुक्त) ने 25 फरवरी को प्रेस वार्ता ने जानकारी दी कि इस घटना में शामिल शाहरुख को गिरफ्तार कर लिया गया है। शाहरुख के खिलाफ आर्म्स एक्ट और सरकारी कर्मचारी पर हमला करने के धारा में एफआईआर (FIR) दर्ज की गई है। दिल्ली पुलिस उसका आपराधिक इतिहास खंगाल रही है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button