एक जुलाई से बैन लगाने वाली है सरकार, अमूल ने पीएम को लिखी चिठ्ठी, राहत देने का किया अनुरोध

मोदी सरकार ने पैक्ड जूस और डेयरी उत्पादों पर प्रतिबंध लगा दिया है। भारत ने भारत के सबसे बड़े डेयरी समूह अमूल ने सरकार को पत्र लिखकर कंपनी से प्लास्टिक स्ट्रॉ पर से प्रतिबंध हटाने को कहा है। इसके पीछे किसानों  पर कंपनी का नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

अमूल ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर आर एस सोढी ने अपने पत्र में कहा है कि मोदी सरकार ने प्लास्टिक स्ट्रॉ पर प्रतिबंध लगा दिया है, उन्होंने कहा कि दूध की खपत की मात्रा बढ़ाने में मदद करता है।

उन्होंने एक साल के लिए मोदी के सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन को एक साल के लिए टालने की अपील की है। तो सोढी ने चिट्ठी में लिखा है कि देरी से 10 करोड़ डेयरी किसानों को बड़ी राहत और फायदा मिलेगा।

पीएमओ ने रॉयटर्स की इस रिपोर्ट के बाद अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। इससे पहले सरकार से जुड़े लोगों ने रॉयटर्स को बताया था कि स्ट्रॉ कम यूटिलिटी वाला प्रोडक्ट है और इसकी जगह पेपर स्ट्रॉ या पैक या इस्तेमाल किया जाना चाहिए। और उसके लिए पेपर स्ट्रॉ या पैक का उपयोग करना होगा। तो सोढी आपके खतरे का जवाब देता है

 इसे भी पढ़े-2900 रुपये के पार जाएगा मुकेश अंबानी की RIL का शेयर! अभी खरीदा तो इतना फायदा

लेकिन उन्होंने कहा कि कंपनी 1 जुलाई से प्रतिबंध लागू होने के बाद बिना पैक के स्ट्रॉ बेच सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार को पार्ले ने भी सरकार को चिट्ठी लिखकर कहा है कि वैकल्पिक स्ट्रॉ का स्थानीय उत्पादन पर्याप्त नहीं है। और आयातित कागज और दूसरे वेरिएंट ज्यादा महंगे हैं।

 इसे भी पढ़े-मेडिकल साइंस की बड़ी सफलता, बनाई कैंसर की दवा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button