MP : शिवराज और कमलनाथ की कोई तुलना नहीं : गृह मंत्री डा. मिश्रा

भोपाल, 23 जुलाई । प्रदेश के गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कोई तुलना नहीं की जा सकती है। कोरोना काल में जनता के बीच से गायब रहने वाले कमलनाथ ट्वीटर पर ही दिखाई देते हैं, जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार जनता की सेवा में लगे हुए हैं। भारतीय जनता पार्टी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के बीच इसी कार्यशैली का अंतर है। गृह मंत्री डा. मिश्रा ने यह बातें शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कही।

दरअसल, प्रदेश में शिवराज सरकार द्वारा कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए लगातार कड़े कदम उठाए जा रहे हैं, जबकि कमलनाथ लगातार प्रदेश में कोरोना संक्रमण सहित अन्य मुद्दों को लेकर सरकार पर सवाल उठाते रहते हैं। पत्रकारों द्वारा इस संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए गृह मंत्री डा. मिश्रा ने कहा कि कमलनाथ जी और शिवराज जी की कोई तुलना नहीं हो सकती है।

उन्होंने भोपाल में पुलिसकर्मियों पर हुए हमले को लेकर साफ कहा कि मध्यप्रदेश में अपराधिक गतिविधियों को बढ़ावा नहीं दिया जाएगा और ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने भोपाल के कोहेफिजा थाना के दो पुलिसकर्मियों पर चाकू से हुए हमले की निंदा करते हुए कहा कि आरोपितों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में अभी तक तीन आरोपित गिरफ्तार किए जा चुके हैं। बाकी 2 पकड़े जाएंगे। अपराधी कोई भी हो, वह बख्शा नहीं जाएगा।

गृह मंत्री डा. मिश्रा ने महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की दर को लेकर कहा कि महाराष्ट्र और दक्षिणी राज्य में लगातार बाकी राज्यों से ज्यादा केस नजर आ रहे हैं। जिसको देखते हुए वहां से बसों का आवागमन बंद किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के बॉर्डर वाली जिलों में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की जांच के बाद ही एंट्री दिए जाने की हिदायत दी गई हैं।

उन्होंने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि मध्यप्रदेश में मिलावट के खिलाफ कार्रवाई को लेकर शिवराज सरकार प्रतिबद्ध हैं। खाद्य पदार्थों में मिलावट की जान से खिलवाड़ करने वाले मिलावटखोरों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। शिवराज सरकार की नीति मिलावटखोरों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की है।

उन्होंने कहा कि मिलावट पर कसावट हमारी पार्टी का अभियान है जो लगातार जारी रहेगा। मिलावट सिर्फ दूध में नहीं अपितु किसी भी क्षेत्र में मिलावट पाया जाएगा तो उसके खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वाले को कानून छोड़ेगा नहीं।

गृह मंत्री प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। यहां 24 घंटे में मात्र 10 मामले सामने आए हैं, जबकि 12 लोग स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश में अभी कुल एक्टिव के 163 हैं।

उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के मामले में भी मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड कायम किया है। टेस्टिंग के मामले में भी मध्य प्रदेश की स्थिति अन्य राज्यों से कहीं बेहतर है हम कोरोना को लेकर लगातार प्रयासरत हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button