MP News : 75 की उम्र में रोजाना 24 किलोमीटर पैदल यात्रा और फिर जमीन पर सोना, जानें कैसी है लाइफस्टाइल

MP News Today : आज वे एक बड़ा मुकाम हासिल कर चुके हैं, लेकिन इसके लिए उन्होंने कठिन परिश्रम और काफी मेहनत की है। वहीं, मध्य प्रदेश ही नहीं पूरे देश में दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) काफी चर्चित भी हैं। हम आपको अपनी अलग-अलग खबरों के जरिए कई दिग्गज सेलिब्रिटी (Celebrity) और नेताओं की लाइफस्टाइल के बारे में बताते रहते हैं। इसी कड़ी में आज हम जानेंगे कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बारे में।

Photo By Google

MP News :  कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में दिग्विजय सिंह काफी शुमार राजनेता है। तो चलिए बिना देर किए इनकी लाइफस्टाइल के बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं। आप अगली स्लाइड्स (Slides) में दिग्विजय सिंह के बारे में काफी कुछ जान सकते हैं…

शादी :

MP News :  बात अगर दिग्विजय सिंह के वैवाहिक जीवन की करें, तो उन्होंने पहली शादी आशा दिग्विजय सिंह से हुई। इस शादी से उनका एक बेटा और दो बेटियां हैं। इसके बाद साल 2013 में आशा का कैंसर की बीमारी के कारण निधन हो गया।

MP News : फिर दिग्विजय सिंह ने राज्यसभा ने टीवी की एंकर अमृता राय से शादी रचा ली। हालांकि, इस शादी के बाद उन्होंने आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।

जन्म से लेकर शिक्षा तक :

MP News : दिग्विजय सिंह का जन्म मध्य प्रदेश के इंदौर में 28 फरवरी 1947 को हुआ। बात उनकी शिक्षा की करें, तो उन्होंने डेली कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग से स्नातक की।

Photo By Google

MP News : इसके बाद उन्होंने इंदौर स्थित श्री गोविंददास सेकरसरिया प्रोद्योगिकी एवं विज्ञान संस्थान में दाखिला लिया। इसके बाद वे आगे बढ़ते चले गए।

इसे भी पढ़े- कांग्रेस से जिसको जाना है भाजपा में जाए, मैं तो अपनी कार दे दूंगा, पर खुशामद न करूंगा…बोले MP के पूर्व CM

नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष से मुख्यमंत्री पद तक का सफर :

MP News : बात दिग्विजय सिंह के राजनीतिक करियर की करें, तो उन्होंने राघोगढ़ नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष के रूप में अपने करियर की शुरूआत की। इसके बाद साल 1970 में वे कांग्रेस के साथ जुड़े। फिर साल 1977 में वे राघोगढ़ से विधायक चुने गए ओर कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) बनें।

  • यही नहीं, राजगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से वे 1984 में सांसद चुने गए, और इसके बाद वे मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने। हालांकि, 1989 में वे इस क्षेत्र से हार गए। इसके बाद 1993 में दिग्विजय सिंह विधानसभा के लिए निवार्चित हुए और जीतकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।
  • इसके बाद वे फिर से 1998 में हुए चुनाव में जीते, और 2003 तक एमपी के मुख्यमंत्री रहे। इसके बाद वे हार गए और चुनाव न लड़ने का संकल्प लिया। हालांकि, इसके 16 साल बाद उन्होंने वापसी की।
  • कर चुके हैं नर्मदा परिक्रमा
  • सितंबर 2017 में दिग्विजय सिंह नर्मदा परिक्रमा कर चुके हैं। वे औसतन बीस किलोमीटर की रोजाना परिक्रमा पर निकले थे। इसकी कुल परिक्रमा 3400 किलोमीटर थी।
    Photo By Google

इसे भी पढ़े- मध्यप्रदेश के रेल यात्रियों के लिए जरूरी खबर, 4 दिन नहीं चलेगी यह ट्रेन

75 की उम्र में रोजाना लगभग 20-24 किलोमीटर का सफर :

  • कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की कोर टीम में दिग्विजय सिंह शामिल हैं और वे इस टीम के चेयरमैन हैं। ऐसे में वे रोजाना लगभग 20 से 24Km की पैदल यात्रा तय कर रहे हैं और वे भी तब जब उनकी उम्र 75 साल हो चुकी है। ऐसे में इस उम्र में रोजाना पैदाल चलना उनकी फिटनेस को दर्शाता है।
  • दिग्विजय सिंह को इस यात्रा की पूरी जिम्मेदारी मिली है, जिसे वे निभाते हुए भी नजर आ रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिग्विजय सबसे आखिर में भोजन करते हैं और इस यात्रा में वे एक आम इंसान की तरह जीवन बिता रहे हैं। रात में वे जमीन पर ही सोते हैं, जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर छाई हुई है।

Article By Chanda

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button