MP में 16 हजार शिक्षक लापता, सबसे ज्यादा सिंगरौली में गायब है शिक्षक, ढूंढ नहीं पा रहा विभाग

भोपाल 29 अक्टूबर । मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग के रिकॉर्ड से 16215 शिक्षक गायब है यह शिक्षक कहां है किसी को कुछ नहीं पता और सबसे ज्यादा जो शिक्षक गायब हैं वह मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले से हैं यहां पर 1090 शिक्षक गायब मिले हैं बस इतना पता है कि एजुकेशनल पोर्टल पर उनकी जानकारी अपडेट नहीं है विभाग लगातार इनकी तलाश कर रहा है लेकिन समाचार लिखे जाने तक कोई सफलता नहीं मिली

लोक शिक्षण संचनालय डीपीआई द्वारा संयुक्त संचालकों को 7 सितंबर को पत्र जारी किए गए थे और सभी जिला से जानकारी मांगी गई थी ताकि की सूची को अपडेट किया जा सके लेकिन डेढ़ माह बाद भी विभाग गायब शिक्षकों को ढूंढ नहीं पाया डीपीआई द्वारा जारी पत्र में सत्र दो हजार अट्ठारह उन्नीस में 320440 शिक्षक पोर्टल पर दर्ज थे वहीं 2019 और 20 के जारी किए गए आंकड़ों में शिक्षकों की संख्या 304225 रह गई या नहीं 16215 शिक्षक की जानकारी एजुकेशनल पोर्टल से गायब है इससे कई जिलों के स्कूल में शिक्षण कार्य ठीक तरीके से नहीं हो पा रहा है सबसे ज्यादा सिंगरौली जिले में शिक्षक पोर्टल पर दर्ज नहीं है

इसके लिए सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को फिर से जानकारी अपडेट करने के निर्देश जारी किए गए हैं विभाग के अधिकारियों का मानना है कि 16000 शिक्षकों के कम दर्ज होने से केंद्र से शासकीय अनुदान मिलने में कमी हो जाएगी इस कारण जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि शिक्षकों की संख्या की गिनती करके पोर्टल पर जल्द से जल्द अपडेट किया जाए ताकि स्कूल खोलने पर या ऑनलाइन कक्षा के दौरान होने वाले शैक्षणिक कार्य प्रभावित ना हों से छोटे जिले के शिक्षक की संख्या सबसे ज्यादा है जो ऑनलाइन में दर्ज नहीं है

सिंगरौली में 1090 शिक्षक गायब हैं वही शिवपुरी में 997 सागर में 873 देवास में 782 बड़वानी में 745 विदिशा में 738 खंडवा में 685 सीधी में 670 टीकमगढ़ में 573 उज्जैन में 548 छतरपुर में 546 झाबुआ महापौर कटनी में 678 शिक्षक गायब हैं

इसके अलावा बड़े शहरों में गायब होने वाली शिक्षकों की संख्या बेहद कम है अगर देखा जाए तो राजधानी भोपाल में महज 6 शिक्षक गायब हैं इसके अलावा इंदौर में 120 होशंगाबाद में 101 ग्वालियर में 76 और जबलपुर में 30 शिक्षक गायब हैं

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button