भोपाल में 6 हज़ार से ज्यादा मामलो का हुआ निराकरण

भोपाल, 10 जुलाई। भोपाल जिले में शनिवार को आयोजित नेशनल लोक अदालत में 2079 सिविल और दाण्डिक प्रकरण एवं 3938 प्रीलिटिगेशन यानी कुल 6017 प्रकरणों का निराकरण हुआ। इनमें कुल 33 करोड़ 19 लाख 52 हज़ार 617 रुपये की मुआवजा राशि और समझौता राशि निर्धारित कर पारित की गई।

नेशनल लोक अदालत को सफल बताते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भोपाल के सचिव एसपीएस बुन्देला ने बताया कि इस नेशनल लोक अदालत में जिला न्यायालय के दीवानी, दाण्डिक, पारिवारिक विवाद, चेक बाउंस संबंधी विवाद, प्रीलिटिगेशन, लोव उपयोगी सेवाओं संबंधी विवाद, नगर पालिका निगम अधिनियम एवं मोटर दुर्घटना दावा सहित विद्युत अधिनियम के अंतर्गत के प्रकरण सुनवाई हेतु लिये गये थे, जिनका निराकरण पक्षकारों के मध्य आपसी सुलह समझौता कर राजीनामा के आधार पर किये गये।

यह भी पढ़ें  –  MP के सभी कलेक्टरों को जारी हुए ये निर्देश, देना होगा होगा ये प्रमाण पात्र

जिला एवं सत्र न्यायाधीश उपेन्द्र कुमार सिंह द्वारा नेशनल लोक अदालत का उद्घाटन किया गया। भोपाल जिले में जिला तथा तहसील न्यायालय में 56 खण्डपीठों का गठन किया गया था। जिसमें पीठासीन अधिकारियों ने अथक परिश्रम कर नेशनल लोक अदालत में 6017 मामलें निराकृत किये। सचिव एसपीएस बुन्देला द्वारा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भोपाल की ओर से पक्षकारों, इंश्योरेंस कम्पनी के अधिकारियों, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, न्यायिक प्रशासन, पत्रकारों, अधिवक्ताओं, न्यायालय के कर्मचारियों एवं अधिकारियों को सफल नेशनल लोक अदालत के लिये आभार व्यक्त किया गया।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button