snn

Khargone: पुलिस की कार्रवाई के विरोध में मुस्लिम महिलाओं ने किया जोरदार प्रदर्शन

Khargone, 10 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के Khargone जिला मुख्यालय पर स्थानीय पुलिस ने सोमवार देर रात उपद्रव के कुछ आरोपितों की खोजबीन में शहर के मुस्लिम क्षेत्रों में सर्चिंग की।

इसके बाद मंगलवार दोपहर बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं एकत्रित होकर मोहन टाकीज क्षेत्र पहुंची, जहां पुलिस ने उन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी और बड़ी संख्या में महिलाएं रैली के रूप में एसपी कार्यालय पहुंची, जहां जोरदार प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की।

दरअसल, Khargone जिला मुख्यालय पर गत 10 अप्रैल को श्रीराम नवमी पर सांप्रदायिक हिंसा हुई थी। उपद्रव भड़काने वाले आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस जगह-जगह दबिश दे रही है। Khargone में सोमवार की रात जब आरोपितों की सर्चिंग के लिए पुलिस कुछ क्षेत्रों में पहुंची तो जमकर विरोध हुआ। अब Khargone क्षेत्रों की महिलाएं सड़क पर उतर आईं और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया।

मंगलवार को सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं सड़क पर उतरकर पुलिस के विरोध में जोरदार नारेबाजी की। महिलाओं के साथ बच्चों ने भी इस विरोध प्रदर्शन में शामिल रहे। दोपहर में बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं एकत्रित होकर मोहन टाकीज क्षेत्र पहुंची। Khargone में पुलिस ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन प्रदर्शनकारी महिलाओं ने उनकी बात जरा भी नहीं मानी। बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं रैली के रूप में पुलिस के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करते हुए एसपी कार्यालय जा पहुंची और जोरदार प्रदर्शन किया।

गौरतलब है कि जिला मुख्यालय पर हुई हिंसा और उपद्रव के मामले में पुलिस ने कुल 72 प्रकरण दर्ज किए हैं, जिनमें 182 आरोपितों की गिरफ्तारी भी की गई है। दो दिन पूर्व ही पुलिस ने खरगोन दंगों के मास्टर माइंड इकबाल, अफजल और कैफ को भी गिरफ्तार कर लिया है। दंगों में इन तीनों की सबसे अहम भूमिका मानी जा रही है। दंगे भड़काने के मामले में पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार किया है उनमें से अधिकांश का क्रिमिनल रिकार्ड है।

Matka Kulfi : मटका कुल्फी सिर्फ 2 मिनट में कैसे बनाएं

शहर में रामनवमी पर निकली शोभायात्रा में पत्थरबाजी की गई थी। साथ ही कई घरों-दुकानों और वाहनों में आग लगा दी गई थी। इस घटना के बाद शहर में दंगे भड़क उठे थे। जिला मुख्यालय पर हुई इस हिंसा और उपद्रव की देशव्यापी चर्चा तब भी हुई, जब पुलिस ने कई आरोपियों के घरों को जेसीबी से जमींदोज कर दिया. जिन 182 आरोपितों की गिरफ्तारी की गई है इनमें से कई ऐसे आरोपित हैं, जिनका नाम तीन या चार आपराधिक प्रकरणों में पहले से ही दर्ज है। पुलिस अन्य आरोपितों को भी खोजने में लगी है।

MP: में तीखे हुए गर्मी के तेवर, चार जिलों में 45 डिग्री पर पहुंचा तापमान

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button