दतिया पहुचें गृह मंत्री, विकास का किया वादा

दतिया, 18 जुलाई । प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि हम सभी का भाव एवं सोच दतिया के चहुंमुखी विकास की हो। इसके लिए सभी मिलजुलकर दतिया के विकास के लिए कार्य करें। गृह मंत्री डॉ. मिश्र रविवार को दतिया में राजघाट कालोनी स्थित अपने निवास पर व्यापारी प्रतिनिधि मंडल के पदाधिकारियों से दतिया नगर विकास एवं सौन्दर्यीकरण पर चर्चा कर रहे थे। इस मौके पर व्यापारी प्रतिनिधि मंडल ने साफा बांधकर गृह मंत्री का सम्मान भी किया।

गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि हम सभी का भाव ऐसा हो कि दतिया का चहुंमुखी विकास हो। इसके लिए सभी लोग मिल-जुलकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि व्यापारी संगठनों ने जो उनका सम्मान किया है, वह उनका सम्मन नहीं बल्कि प्रत्येक व्यापारी भाई का सम्मान है। दतिया वासियों के स्नेह प्यार एवं आशीर्वाद तथा माँ पीतम्बरा माई की कृपा है कि आज वह गृह मंत्री के रूप में प्रदेश की जनता की सेवा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि उनका हमेशा से भाव सोच दतिया के हित एवं विकास के लिए रही है। दतिया में हवाई पट्टी का लाना, मेडीकल कॉलेज शुरू करने के साथ नौनेर में वेटनरी एवं फिशरीज कॉलेज शुरू करने के पीछे उद्देश्य जिले की इकोनोमी बढ़ाना है। जिससे स्थानीय स्तर पर जिले के नौजवानों को विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार प्राप्त हो सके।

उन्होंने कहा कि दतिया वालों ने कोरोना काल प्रथम एवं द्धितीय के दौरान गरीब एवं जरूरत मंदों को घर-घर जाकर खाद्यान्न एवं आवश्यक वस्तुओं का निःशुल्क वितरण कर मानव सेवा की अनूठी मिसाल पेश की है।

कार्यक्रम में व्यापारी प्रतिनिधि मंडलों के पदाधिकारियों मोहन ज्ञानानी, पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष डीपी सिजरिया, रमेश नाहर, शंकर त्रिवेदी, गोविन्द ज्ञनानी, रामू शर्मा आदि ने दतिया के विकास एवं सौन्दर्यीकरण करण हेतु अपने-अपने सुझाव रखते हुए स्थानीय समस्यायें भी रखी।

व्यापारियों के हितों की रक्षा करने के लिए सदैव तत्पर रहेंगे

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि व्यापारियों के हितों की रक्षा करने के लिए सदैव तत्पर रहेंगे। उन्होंने विभिन्न व्यापारियों से चर्चा कर उनकी समस्याओं को नियमानुसार निराकरण करने का आश्वासन दिया।

आकाशीय बिजली से दो बालिकाओं की मृत्यु होने पर परिजनों को दी चार-चार लाख की सहायता

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने ग्राम सनौरा निवासी गोविन्द सिंह की पुत्री प्रियंका और विनोद की पुत्री प्रतीक्षा की गत दिनों आकाशीय बिजली गिरने से आकस्मिक मृत्यु हो जाने पर मृतक बालिकाओं के पिता प्रत्येक को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की। साथ ही परिजनों से घटना के संबंध में चर्चा कर जानकारी ली।

गृह मंत्री ने ग्राम निवरी पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की

बड़ौनी के वार्ड क्रमांक 15 के निवासी धनीराम आदिवासी की बच्ची 13 वर्षीय पुष्पा आदिवासी की आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हो गई थी। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने धनीराम के निवास पर पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की, साथ ही बच्ची के निधन पर पिता को शासन की ओर से नियमानुसार आर्थिक सहायता के रूप में चार लाख की राशि का चैक प्रदान किया। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी समस्या आपको आगे आती है तो तुरंत मुझे बतायें, मैं आपकी हर संभव मदद करने को तैयार रहूंगा।

 

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button