भाजपा विधायक ने अपने ही अधिकारी पर लगाए गंभीर आरोप

मन्दसौर 19 जुलाई । मंदसौर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा पकड़े गए इंडियन रेवेन्यू सर्विसेज के अधिकारी शशांक यादव के मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

नीमच की अल्कोलाइड फैक्ट्री के चीफ कंट्रोलर ऑफ फैक्ट्री तथा आईआरएस अधिकारी शशांक यादव के कब्जे से एंटी करप्शन ब्यूरो ने राजस्थान के कोटा से 16 लाख 32 हजार 410 रुपए बरामद किए हैं। सूत्रों के अनुसार अधिकारी द्वारा किसानों से अवैध वसूली का क्रम पिछले कई दिनों से चल रहा है। आरोप यह भी है कि 6000 किसानों से 5 करोड़ रुपये करीब की राशि एडवांस के रूप में ली जा चुकी थी। जनचर्चा के आधार पर भाजपा विधायक सिसौदिया ने कहा कि यदि एसीबी इनको नहीं पकड़ती तो 40 हजार किसानों से 3.20 अरब रुपए और वसूल किये जा रहे थे। इसकी जांच अगर सीबीआई से की जाती है तो कई परतें खुलेंगी।

भाजपा विधायक सिसौदिया का आरोप है कि अफीम के पट्टे दिए जाने को लेकर भी किसानों से मोटी रकम वसूल की जाती आ रही है। किसानों को निर्धारित आरी में अफीम की खेती करने का पट्टा जारी किया जाता है।

वहीं, मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री श्यामलाल जोकचन्द्र ने प्रधानमंत्री, वित्तमंत्री व अखिल भारतीय कांग्रेस अध्यक्ष को लिखे पत्र में मांग की है कि किसानों से रिश्वत की राशि ले जाते हुए गिरफ्तार हुए नीमच के नारकोटिक्स अधिकारी का नार्को टेस्ट कराने व मामले की सीबीआई जांच की जायें। जोकचन्द्र ने कहा कि जब से केन्द्र में भाजपा की सरकार आई है तब से अफीम किसानों से बडे पैमाने पर वसूली की जा रही है और यह गोरखधंधा खूब चल रहा है।

 

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button