एक और खाद्य अधिकारी 18 हजार की रिश्वत लेते हुआ ट्रैप, पन्ना के बाद दूसरी कार्यवाही

Another food officer trap taking bribe of 18 thousand, second action after Panna

अनूपपुर, 01 अक्टूबर । जिला खाद्य आपूर्ति विभाग के कार्यलय में रीवा लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार को छापामार कार्रवाई करते हुए जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी अंभोज श्रीवास्तव और कार्यालय में कार्यरत सर्विस इंजीनियर अनिरूद्ध केवट को रंगेहाथों 18 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है।

जिला खाद्य आपूर्ति विभाग अधिकारी के खिलाफ जैतहरी जनपद पंचायत में संचालित इंडेन गैस एजेंसी संचालक अनिल प्रजापति द्वारा लोकायुक्त रीवा कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिसमें शिकायतकर्ता ने जिला खाद्य आपूर्ति विभाग अधिकारी अम्भोज श्रीवास्तव पर 20 हजार रुपये रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। लोकायुक्त की टीम ने शिकायत पर जांच पड़ताल करते हुए ऑडियो रिकार्ड के आधार पर शुक्रवार को को कार्रवाई की।

लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक रीवा राजेन्द्र कुमार वर्मा के निर्देश पर एसआई प्रमेन्द्र कुमार के नेतृत्व में 15 सदस्यी टीम ने कार्रवाई किया। इसमें अंभोज श्रीवास्तव निवासी ऐंताझर शहडोल और सर्विस इंजीनियर अनिरूद्ध केवट निवासी गुढयारी बुजुर्ग कुसमी बाजार गोरखपुर उप्र को 18 हजार रूपए के रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया। दोनों के हाथ धुलाने पर रंग से हाथ रंगे पाए गए। सर्किट हाउस में पूछताछ किया गया और विभागीय कार्रवाई की गई।

एसआई प्रमेन्द्र कुमार ने बताया कि शिकायतकर्ता ने बताया था कि 18 सितम्बर को अनूपपुर स्थित आईटीआई परिसर में उज्जवला योजना-2.0 कार्यक्रम का आयोजित हुआ था। कार्यक्रम शासकीय था। जिसे जिला खाद्य आपूर्ति विभाग और जिला प्रशासन द्वारा आयोजित किया गया था। लेकिन बाद में विभागीय अधिकारी ने इसमें अधिक खर्च की बात कहते हुए जिले के गैस एजेंसी संचालकों से रिश्वत के रूप पैसे की वसूली आरभ्भ कर दी। इसमें कुछ संचालकों ने पैसे भी दिए। इंडेन गैस एजेंसी संचालक अनिल प्रजापति से भी अधिकारी द्वारा 28 हजार रुपये मांग की गई थी, जिसमें 18 हजार रुपये पर मामला तय हुआ था। शुक्रवार को रिश्वत की राशि अधिकारी को देने के बाद लोकायुक्त की टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर पकड़ा गया। इस मामले में अब प्रदेश खाद्य आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने गंभीरता दिखाते हुए विभागीय संचालनालय को पत्र भेजते हुए निलंबन की कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। वहीं लोकायुक्त की टीम अभी भी अधिकारी से पूछताछ कर रही है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button