6 लाख उपभोक्ताओं को नही मिलेगा 100 रुपये यूनिट बिजली योजना का लाभ, पढिये क्या है वजह

मध्य प्रदेश सरकार ने खाली खजाना भरने के लिए अब मध्यवर्गीय परिवारों पर भार डालने का फैसला किया है उसने इसके लिए इनकम टैक्स को आधार बनाया है अब 100 यूनिट बिजली खर्च करने पर ₹100 बिल की योजना से इनकम टैक्स देने वाले 6 लाख उपभोक्ताओं को बाहर किया जाएगा यह निर्णय कैबिनेट बैठक में उर्जा विभाग के प्रेजेंटेशन के बाद लिया गया गौरतलब है कमलनाथ सरकार योजना में घर आई थी तब खपत के आधार पर उपभोक्ता को लाभ मिल रहा था चुनाव के बाद यह सरकार का बिजली उपभोक्ताओं को बड़ा झटका माना जा रहा है

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि 6 लाख बिजली बिल उपभोक्ता अधिकतर प्रथम श्रेणी के अधिकारी हैं बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए कि बड़े बकायेदारों से बिजली बिल की वसूली अभियान चलाया जाए बैठक में यह भी तय किया गया है कि ऊर्जा विभाग के जूनियर इंजीनियर और असिस्टेंट इंजीनियरों की पोस्टिंग परफॉर्मेंस के आधार पर की जाएगी गृह मंत्री ने बताया कि 20 जनवरी को पूरे प्रदेश में रोजगार मेले आयोजित किए जा रहे हैं मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी मंत्री अपने-अपने जिलों में आयोजित मेले में शामिल हो इन मेलों के माध्यम से सरकार ने एक लाख लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य रखा है मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि अब कैबिनेट की बैठक में कोई एक मंत्री अपने विभाग का प्रेजेंटेशन करेगा इसके पीछे मंशा यह है कि सभी मंत्रियों को अन्य विभागों की गतिविधियों की पूरी जानकारी हो सके

यह भी पढ़ें –  MP सरकार के लिए मुसीबत खड़ी करेगे संविदा कर्मी, पढिये क्या है वजह

क्या है स्कीम

बिजली की खपत 100 यूनिट तक होने पर उपभोक्ताओं को केवल ₹100 बिल चुकाना होता है स्कीम के मुताबिक अगर किसी महीने में आंख की बिजली की खपत 150 यूनिट हुई तो ₹384 का बिल देना होता है लेकिन 151 यूनिट बिजली खर्च की है तो इस स्कीम का कोई बेनिफिट नहीं मिलेगा

इसलिए बड़े बकायादारों से वसूली अभियान

प्रदेश सरकार ने कोविड-19 के कारण 31 अगस्त 2020 तक का बिल बकाया राशि स्थगित करने के निर्देश दिए थे 1 सितंबर 2020 से चालू माह की खपत के आधार पर बिजली बिल जारी हुए सरकार के इस फैसले से जहां 70 लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ताओं को लाभ हुआ वहीं बिजली कंपनियों के राजस्व में बेतहाशा कटौती हो गई लेकिन इस दौरान ऐसे उपभोक्ताओं को भी लाभ मिल गया जिन्होंने साल साल भर के बिजली के बिल जमा नहीं किए थे अब ऐसे बड़े बकायादारों से बिलों की वसूली की जाएगी

यह भी पढ़ें –MP की आबकारी नीति में हो सकता है बदलाव, ये है वजह

AAD

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button