10 मिनट में होगी कोरोना जाँच, सतना के वैज्ञानिक ने बनाया रैपिड कार्ड किट

सतना | युवा वैज्ञानिक डाॅ. राम प्रमोद तिवारी ने कोरोना की जांच के लिए रैपिड कार्ड किट तैयार की है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के अधीन काम करने वाले पुणे के संस्थान नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी (एनआईवी) सेंटर ने इस किट काे मंजूरी दे दी है। किट के मटेरियल का ऑडिट आईसीएमआर करेगा और फिर यह किट बाजार में 300 से 400 रुपए में उपलब्ध हाे जाएगी। इस किट से व्यक्ति कोरोना वायरस के संक्रमण की पहचान 10-15 मिनट में कर सकेगा। अभी सैंपल लेने के बाद जांच में 7 से 8 घंटे लगने से कम टेस्ट हाे रहे हैं।

सतना जिले के गांव पिपरा में जन्मे डाॅ. तिवारी ने जेयू के पूर्व कुलपति व एमआईटीएस के पूर्व डायरेक्टर प्राे. पीएस बिसेन के मार्गदर्शन में पीएचडी की थी। उन्होंने एमआईटीएस से टीबी की किट पर रिसर्च कर यूएस, जापान और यूरोप के देशों से पेटेंट ले रखा है। वह दिल्ली में रहकर अपनी कंपनी वेनगार्ड संचालित कर रहे हैं। कंपनी कोरोना वायरस की जांच के लिए रैपिड कार्ड किट बनाने का काम कर रही है। डाॅ. तिवारी सतना की AKS यूनिवर्सिटी में एडवाइसरी मेंम्बर भी है वे यूनिवर्सिटी में बॉयोटेक सबंधी विषयों पर मार्गदर्शन देते है ।

डॉ तिवारी ने फरवरी में कुछ सैंपल मुंबई की लैब में जांच के लिए भेजे थे, जाे सफल हुए थे। डाॅ. तिवारी की उपलब्धि पर प्रो. बिसेन का कहना है कि यह किट काेराेना की जंग लड़ रहे लोगों के लिए मददगार होगी। आईसीएमआर के पीआरओ रजनीकांत श्रीवास्तव ने कहा, कोरोना का पता लगाने के लिए रैपिड कार्ड किट के लिए वेनगार्ड कंपनी ने एप्रूवल मांगा था। जांच के बाद एनआईवी पुणे सहित आईसीएमआरसे इस किट काे मंजूरी दे दी है।

खून से पता चल जाएगा संक्रमण
कोरोना वायरस का संक्रमण मरीज में मौजूद है या नहीं, इसका पता लगाने के लिए रैपिड कार्ड किट पर खून की एक बूंद डालनी हाेगी। 10 मिनट में वायरस के संक्रमण की मौजूदगी का पता चल जाएगा। अभी मॉडयूक्यूलर जांच में वक्त लगता है।

100 किट से क्लीनिकल ट्रायल
डाॅ. तिवारी की किट काे बाजार में उतारने से पहले 100 किट से क्लीनिकल ट्रायल कराना होगा । यह ट्रायल देश के किसी भी शहर या गांव में की जा सकती है। यदि सेंट्रल ड्रग स्‍टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन समझे कि इन हाउस ट्रायल कराना है तो वह भी कर सकता है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button