शिवराज सरकार ने पिछड़ी जनजाति के लिए की बड़ी घोषणा

भोपाल 22 अगस्त । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विशेष पिछड़ी जनजाति के लिए बड़ी घोषणा की है अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए उन्होंने कहा है कि विशेष पिछड़ी जनजाति की महिला एवं बच्चों को इस कोरोनावायरस काल के बीच उचित पोषण की आवश्यकता है इसलिए उन्हें राशि का भुगतान समय पर किया जाए इसके साथ ही शुक्रवार को मंत्रालय से सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आहार अनुदान योजना के तहत सिंगल क्लिक से 21 करोड़ 97लाख 80 हजार रुपय भुगतान की नई व्यवस्था का शुभारंभ किया सीएम ने कहा है कि आगामी महीनों में शुरुआत से ही आहार अनुदान योजना की राशि के पदों के खाते में भेजी जाएगी

शुक्रवार को विशेष पिछड़ी जाति के लिए बड़ी घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि पिछले 3 वर्ष में 21 लाख90 हजार से अधिक महिलाओं के खाते में 660 करोड रुपए पहुंचाए गए हैं इस संक्रमण काल में कुपोषण मुक्त परिवार बनाने के लिए आहार अनुदान योजना चलाई जा रही है जिसके अंतर्गत परिवार की महिला मुखिया के खाते में प्रतिमाह ₹1000 की राशि दी जाती है इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि योजना में मध्यप्रदेश के अब तक 200000 से अधिक जनजातियों को इस योजना का लाभ मिल रहा है

READ MORE रीवा : DIG की पत्नी और एक पत्रकार मिले संक्रमित, सतना में एक और मौत 

इस आहार योजना के अंतर्गत सिंगल क्लिक से भुगतान की नई व्यवस्था का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राशि के वितरण को सुनिश्चित करने के लिए पोर्टल तैयार कर लिया गया है जिससे आगामी माह की शुरुआत में ही लाभार्थियों को रकम मिल जाया करेगी अति पिछड़ी जाति की महिलाओं से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उनसे कई तरह की बातें हुई मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आदिवासी बहने अपने बच्चों को खूब पढ़ाई बच्चों को रोटी कपड़ा और मकान आदि की व्यवस्था राज्य सरकार कर रही है मुख्यमंत्री ने सभी जिलों के कलेक्टर को निर्देश दिए हैं कि विशेष जाति के जिन भाई बहनों का सूची से नाम गया हो उसे तुरंत जोड़ा जाए शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछड़ी जनजातियों के पोषण की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है

READ MORE भारत में कोविड-19 के मामले 29 लाख के पार 

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button