विधायक अब नही कर पाएंगे ये काम, पढिये क्या है माजरा BHOPAL NEWS

भोपाल 30 दिसंबर । मध्यप्रदेश में भले ही शीतकालीन सत्र स्थगित हो गया हो लेकिन विधायकों के सवालों के जवाब जरूर दिए जाएंगे शिवराज सरकार द्वारा जवाब को लिखित में भेजा जाएगा परंतु विधायक उन जवाब को अब सार्वजनिक नहीं कर पाएंगे

असल में मध्य प्रदेश में विधायकों द्वारा विधानसभा में 950 प्रश्न और 200 से ज्यादा ध्यान आकर्षण लगाए हैं सत्र के स्थगित होने के चलते शिवराज सरकार के मंत्रियों द्वारा विधायकों को प्रश्न और ध्यानाकर्षण सूचनाओं का जवाब लिखित में भेजा जाएगा लेकिन इसमें एक शर्त रखी गई है कि जब तक जवाब को पटल पर नहीं रख दिया जाता तब तक कोई भी विधायक इनके उत्तर सार्वजनिक नहीं कर सकेंगे उम्मीद की जा रही है कि अब फरवरी-मार्च के दौरान होने वाले बजट सत्र के पहले दिन यह सभी उत्तर पटल पर रखे जाएंगे

भोपाल में सीएम शिवराज का बड़ा ऐलान BHOPAL NEWS

बताते चलें कि सर्वदलीय बैठक के बाद नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ का बयान सामने आया था जिसमें उन्होंने कहा था कि विधायकों की ओर से प्राप्त सवालों के जवाब के संबंध में उन्होंने सुझाव दिया है कि विधायकों की समितियां बना दी जाएं और उनके समक्ष मंत्रियों के तरफ से संबंधित विधायकों के सवालों के जवाब आने चाहिए विपक्ष की आवाज नहीं दबाई जानी चाहिए गौरतलब है कि इस साल शीतकालीन सत्र 28 दिसंबर से प्रस्तावित था और 30 दिसंबर तक चलने वाला था लेकिन सत्र से पहले कराई जा रही कोरोनावायरस टेस्ट में विधानसभा के 60 कर्मचारी और 10 विधायक कोरोनावायरस पॉजीटिव मिले, इसके बाद सर्वदलीय बैठक में यह निर्णय लिया गया कि सदन को स्थगित कर दिया जाए है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button