लॉक डाउन 4 : ऑरेंज जोन हुआ खत्म, जानिए और क्या है रियायत

भोपाल : मध्य प्रदेश पर अब दो ही जोन होंगे सिर्फ ग्रीन और रेड, केंद्र सरकार ने जिस तरह से राज्य सरकारों पर जोन को लेकर फैसला छोड़ दिया था उसी के मद्देनजर अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऑरेंज जोन को खत्म कर दिया है प्रदेश में केवल ग्रीन और रेड जोन रहेंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दूरदर्शन के माध्यम से प्रदेश की जनता को संबोधित किया इस दौरान इस दौरान उन्होंने लॉक डाउन के लिए गाइडलाइन के बारे में बताया

मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉक डाउन 4 के दौरान सभी कंटेंटमेंट क्षेत्रों में विशेष प्रतिबंध जारी रहेंगे तथा केवल अत्यावश्यक गतिविधियों की अनुमति होगी रेड जोन के भीतर लोगों का आना जाना प्रतिबंधित रहेगा, केवल मेडिकल इमरजेंसी, आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं में लगे लोगों की आपूर्ति और आवाजाही हो पाएगी, कंटेंटमेंट एरिया में उद्योग संचालित नहीं होंगे परंतु इसके बाहर सभी स्थानों पर उद्योग संचालित किए जाएंगे, कंटेंटमेंट एरिया को छोड़कर बाकी सभी जगह केंद्र सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक छूट मिलेगी, कैंटोनमेंट एरिया में आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी और शाम 7:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक कर्फ्यू जारी रहेगा

प्रदेश के इंदौर और उज्जैन रेड जोन जिले रहेंगे, जबकि देवास भोपाल बुरहानपुर खंडवा धार और के कुछ निकाय क्षेत्र रेड जोन में रहेंगे रेड जोन में मोहल्लों की दुकानों और बाजारों में आवश्यक वस्तु दुकान ही खोली जाएगी, माल परिवहन भी जारी रहेगा

वहीं ग्रीन जोन में कार्यालय खोले जाएंगे, ग्रीन जोन में एक जगह से दूसरी जगह जाने की पूरी छूट रहेगी सार्वजिनिक परिवहन पर यहां भी रोक जारी रहेगी सार्वजनिक परिवहन पर 7 दिन बाद विचार किया जाएगा शाम 7:00 बजे के बाद सुबह 7:00 बजे तक कर्फ्यू यहां भी जारी रहेगा जबकि उधोगो में लगे वाहन चलेंगे

प्रतिबंधित गतिविधियां

सभी जोन में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान, होटल, रेस्टोरेंट, होस्पिटलिटी सेवाएं, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स, बार, ऑडिटोरियम प्रतिबंधित रहेंगे। इन जोन्‍स में सामुदायिक कार्यक्रम, सभी प्रकार के सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन नहीं हो सकेंगे।

रेड जोन के अंतर्गत मोहल्ले की दुकानें, रहवासी परिसर की दुकानें तथा बाजारों में स्थित आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। ऑनलाइन शिक्षा चालू रहेगी।
मेडिकल, पुलिस आवास, क्वारैंटाइन सेंटर, फंसे हुए लोगों के भोजन के लिए उपयोग किए जाने वाले होटल, बस डिपो, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट में संचालित कैंटीन चालू रहेंगे। होम डिलेवरी करने वाले रेस्टोरेंट के किचन, स्पोर्ट्स काॅम्पलेक्स, स्टेडियम (बिना दर्शकों के), सभी प्रकार का माल परिवहन, कार्गो मूवमेंट तथा उनके खाली वाहनों का मूवमेंट जारी रहेंगे। स्वास्थ्यकर्मियों एवं सफाईकमियों का आवागमन, उद्योगों के लिए श्रमिकों को लाने ले जाने की बसें तथा शासकीय एवं निजी कार्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चालू रहेंगे।

ग्रीन जोन सभी क्षेत्रों के लिए प्रतिबंधित गतिविधियों को छोड़कर शेष सभी प्रकार की गतिविधियां संचालित की जा सकेंगी।
सभी दुकानें एवं बाजार खुले रहेंगे, सब्जी मंडियां खुलेंगी। निजी व शासकीय कार्यालय पूरी क्षमता से चलेंगे तथा निजी वाहनों से आवागमन किया जा सकेगा।
यदि किसी ग्रीन जोन जिले में पॉजिटिव प्रकरण बढ़ते है तो वह रेड जोन में परिवर्तित किया जा सकेगा।

यह भी पढ़े :

कर्ज माफ़ी सदी का सबसे बड़ा घोटाला – मंत्री नरोत्तम मिश्रा

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button