प्रदेश के गृह मंत्री हैं आज बेहद दुखी पढ़िए वजह

भोपाल 4 दिसंबर । मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा इतिहास का हिस्सा बनते बनते रह गए असल में बीते दिनों मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बड़ी पेशकश की थी और वह कोरोनावायरस वैक्सीन के लिए वालेंटियर बनने के लिए तैयार थे आज जब डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा पीपुल्स कॉलेज पहुंचे तो उन्हें कोवैक्सिन ट्रायल के लिए अनफिट कर दिया गया

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को को वैक्सीन ट्रायल के लिए मेडिकल कॉलेज पहुंचे पहुंचे थे जहां उन्होंने को वैक्सीन ट्रॉयल की इच्छा जताई थी हालांकि अब डॉक्टरों ने उन्हें कोवैक्सीन के लिए फिट नहीं पाया दरअसल डॉक्टरों ने बताया कि डॉ मिश्रा के परिवार के सदस्य को कोरोनावायरस संक्रमण हो चुका है इसलिए उनके ऊपर यह ट्रायल नहीं किया जा सकता वही काउंसलिंग के दौरान तकनीकी पेंच के चलते उन्हें वैक्सीन के लिए अनफिट कर दिया गया

स्वास्थ्य कर्मियों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज 15 घायल

इस मामले में नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट करते हुए कहा कि कोरोनावायरस वैक्सीन ट्रायल वॉलिंटियर बनने की उनकी बहुत तीव्र इच्छा थी और इस माध्यम से वह समाज के लिए कुछ करना चाहते थे इसके साथ ही नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आईसीएमआर के एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया में वो फिट नही पाए गए उनकी उनके मन में इसकी बहुत पीड़ा है

सीएम शिवराज का ऐलान पटवारी अगर हल्के में नहीं बैठा तो कलेक्टर पर होगी कार्रवाई

इसके साथ ही कोवैक्सीन ट्रायल पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि वैक्सीनेशन ट्रायल के लिए एक लंबी प्रक्रिया काउंसलिंग की होती है काउंसलिंग की प्रक्रिया से ही वालंटियर आकांक्षाओं से गिर जाते हैं और उन्हें टेलिफोनिक ऑब्जर्वेशन में रखा जाता है जिससे बार-बार उन्हें डॉक्टर के संपर्क में रहने को कहा जाता है नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अगर को वैक्सीन ट्रायल की प्रक्रिया सरल हो जाए तो इस तरह से दुविधा उत्पन्न नहीं होगी ग्रह मंत्री ने कहा कि मेरी पत्नी को कोरोनावायरस संक्रमण हुआ था जिसकी वजह से मुझे वैक्सीन नहीं लगाई गई

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button