पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल का कटाक्ष वीडी टीम के विस्तार पर कहीं ये बात

भारतीय जनता पार्टी (BJP)के प्रदेश अध्यक्ष खजुराहो सांसद वीडी शर्मा (VD Sharma)ने बुधवार को अपनी नई कार्यकारिणी घोषित कर दी 28 सदस्य टीम में संतुलन बनाए रखने का प्रयास किया गया है लेकिन खास बात यह है कि इसमें मूल रूप से संगठन के लोगों को ही जगह मिली है ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों को टीम वीडी (Team VD) में स्थान नहीं मिला है कांग्रेस ने सिंधिया समर्थकों के शामिल नहीं किए जाने पर तंज कसा है कांग्रेस का कहना है कि भाजपा(BJP) ने संकेत दिया है कि महाराज ट्रांजिट विजिट पर ही रहेंगे

कमलनाथ सरकार गिराने और भाजपा में आने के बाद अपने समर्थकों को मंत्री बनवाने में कामयाब हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्यसभा तो पहुंच गए लेकिन अभी वे केंद्रीय मंत्री बनने की बाट जोह रहे हैं कुछ दिन पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की टीम में अपने दो खास समर्थकों तुलसीराम सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को फिर से मंत्री बनवाने में कामयाब हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा की टीम में अपने समर्थकों को जगह नहीं दिला पाए हालांकि भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी में हो रही देरी को लेकर यह प्रयास लगाए जा रहे थे कि सिंधिया के दखल के कारण ऐसा हो रहा है लेकिन बुधवार को घोषित टीम वीडी से यह प्रयास धूमिल हो गए सिंधिया के किसी भी समर्थक को प्रदेश कार्यकारिणी मैं पदाधिकारी नहीं बनाया गया है गौरतलब है पहले भी जब प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने महामंत्री की घोषणा की थी उस समय भी सिंधिया समर्थक दरकिनार कर दिए गए थे इसके बाद यह माना जा रहा था कि कांग्रेस की तर्ज पर भाजपा में भी सिंधिया अपने समर्थकों को प्रदेश कार्यकारिणी में शामिल कराने में कामयाब होंगे लेकिन हुआ इसके ठीक विपरीत भाजपा संगठन ने उन्हें कोई खास तवज्जे नहीं दिए

ये भी पढ़ें –  लव मैरिज के बाद पत्नी को जला दिया जिन्दा

भिंड का वजन बढ़ा ग्वालियर से एक पूर्व विधायक शामिल

ग्वालियर चंबल अंचल को सिंधिया का गढ़ माना जाता है इसलिए उम्मीद थी कि सिंधिया क्षेत्र के कुछ खास समर्थकों को तो टीम वीडी में जगह दिलवा ही देंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ ग्वालियर से केवल पूर्व विधायक मदन कुशवाहा को प्रदेश मंत्री बनाया गया है मदन कुशवाहा बीएसपी से विधायक रहे हैं वह कांग्रेस से होते हुए भाजपा में आए हैं वहीं टीम वीडी में भिंड का वजन बढ़ा है प्रदेश में दो उपाध्यक्ष सांसद श्रीमती संध्या राय और मेहगांव से भाजपा विधायक रह चुके मुकेश चौधरी बनाए गए हैं यह दोनों भिंड जिले से आते हैं लोकेंद्र पराशर को एक बार फिर प्रदेश में मीडिया प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है गौर करने वाली बात यह है कि प्रदेश अध्यक्ष ने मोर्चा साथ अध्यक्षों की भी घोषणा की है और इसमें भी सिंधिया समर्थक गायब है

ये भी पढ़ें – MP पुलिस में भर्ती होने वाले हो जाये तैयार, ओपन होने वाली है आवेदन लिंक

कांग्रेस का तंज ट्रांजिट विजिट पर ही रहेंगे महाराज

सिंधिया समर्थकों को टीम वीडी में जगह नहीं मिलने के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है कांग्रेस ने इस पर तंज कैसा है कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता आरपी सिंह ने एमपी ने कहा कि भाजपा ने अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं कि उनका वर्क कल्चर अपनाएंगे वही संगठन में रहेगा कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि स्पष्ट संकेत है कि पार्टी संगठन में सिंधिया ट्रांजिट विजिट पर ही रहेंगे संभव है उन्हें यहां से जल्द पलायन भी करना पड़े उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा था कि आयतीत और स्थापित नेताओं के बीच घमासान था जिसकी वजह से टीम घोषित होने में देर हुई और आखिर में पार्टी ने स्थापित नेताओं को स्थान दिया है

बहरहाल पार्टी को प्रदेश कार्यकारिणी में किसे रखना है यह वरिष्ठ नेता और प्रदेश अध्यक्ष का फैसला होता है लेकिन जिस तरह से घटनाक्रम घटित हो रहे हैं उससे कांग्रेस को भाजपा और सिंधिया दोनों को घेरने का मौका जरूर मिल रहा है

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button