नगाड़े से भोपाल में हुआ जनजातीय बंधुओं का स्वागत

भोपाल, 14 नवम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुख्य आतिथ्य में राजधानी भोपाल में सोमवार को जनजातीय गौरव दिवस के महासम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें प्रदेशभर से जनजातीय बंधु शामिल होंगे। रविवार शाम को जनजातीय बंधुओं का भोपाल पहुंचना प्रारम्भ हो गया। भोपाल पधारे जनजातीय बंधुओं का ढोल नगाड़े की गूंज के साथ पुष्प वर्षा से बारातियों की तरह जबरदस्त स्वागत किया गया।

भोपाल के गांधी नगर स्थित सागर पब्लिक स्कूल में खरगोन और झाबुआ के जनजातीय भाइयों का बस का रविवार शाम को आगमन हुआ। इस दौरान ढोल नगाड़े बजाकर उनका शानदार स्वागत किया गया। तिलक और पुष्प वर्षा से सबका मन आत्मविभोर हो गया। उनका अपनत्व भरा ऐसा आत्मीय स्वागत किया गया, जिससे वे भावविभोर हो गये। सभी अतिथि भाई व्यवस्थाओं को देखकर भी अभिभूत हुये। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार व्यक्त किया। विधायक रामेश्वर शर्मा और कलेक्टर अविनाश लवानिया ने जनजातीय भाइयोँ के साथ रात्रि का भोजन भी किया।

ढोल नगाड़े की गूंज के साथ पुष्प वर्षा से बारातियों की तरह स्वागत

अतिथियों ने कहा कि देश में पहली बार किसी सरकार ने हमें विशेष सम्मान के साथ बुलाया है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हम दिल से आभार व्यक्त करते हैं, इससे हमें बेहद खुशी हुई। जिस तरह से हमारी मेहमानों की तरह खातिरदारी की गई, वह देखकर तो और ज्यादा खुशी हुई। सज-धज और तैयार होकर आए युवाओं ने कहा कि शहरी क्षेत्र में हमारी इतनी इच्छी आवभगत होगी, यह सोचा भी नहीं था।

उन्होंने उम्मीद व्यक्त की कि हमारी सभी जरूरतों को सरकार ने समझा है और अब सभी जनजातीय भाइयोँ की समस्याओं का भी समाधान हो रहा है। पक्के मकान मिलना शुरू हो गए हैँ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हमारी समस्याओं के निराकरण के प्रति संवेदनशील है। घर-घर राशन पहुंचाने की व्यवस्था से सभी लोगों की खाने की समस्या का समाधान होगा।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी आ रहे हैं इतनी अच्छे माहौल में आने का पता होता तो पूरा गांव ही इस सम्मेलन में आ जाता। हम यहां आकर बारातियों सा महसूस कर रहे हैं। सरकार के अधिकारियों ने हमारा बेहतर खयाल रखा है। जगह-जगह हमें चाय, पानी और नाश्ते के साथ खाना सम्मान के साथ मिला है। बहुत खुशी हो रही है।

उल्लेखनीय है कि भोपाल में 28 हजार अतिथियों ढोल नगाड़े से स्वागत के साथ के रुकने और खाने पीने का व्यवस्थित इंतजाम किया गया। खाने के लिए विशेष केटरिंग की व्यवस्था की गई है। जिसमें पूड़ी सब्जी, दाल चावल और मिठाई में खीर रखी गई है।

बिरसामुंडा भारतीय स्वातंत्र्य चेतना के सच्चे प्रतीक

प्रभारी अधिकारी अपर कलेक्टर उमराव सिंह मरावी ने बताया कि सभी जगहों पर बेहतर व्यवस्थाएं की गई हैं भोपाल पधारे जनजातीय बंधुओं का ढोल नगाड़े की गूंज के साथ पुष्प वर्षा से बारातियों की तरह जबरदस्त स्वागत किया गया सोने के लिए जनमासी व्यवस्थाओं की कोशिश की है। गद्दे रजाई ,चादर, पीने के पानी के लिए आर.ओ. पानी रखा गया है। सभी स्थलों पर टायलेट, नहाने के लिए बेहतर इंतजाम किए गए हैं।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button