कोरोना संक्रमित पिता की मौत के बाद बेटे ने नहीं लिया शव

कोरोना संकट के बीच रिश्ते भी शर्मसार हो रहे है कोरोना संक्रमण जिंदगी पर ही नहीं रिश्तो और जज्बातों पर भी असर डाल रहा है ऐसा ही एक मामला सामने आया है भोपाल से जहां पर एक बुजुर्ग प्रेम सिंह मेवाड़ की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई वह भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे जहां उन्होंने आखिरी सांस ली, मौत के बाद शव परिवार वालों को देने की नियत से मर्चुरी में रखवा दिया गया और उसके परिजनों को सूचना दी गई लेकिन बेटे ने एक टका सा जवाब देकर पिता के अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी भी प्रशासन पर डाल दी और शव लेने से इंकार कर दिया

प्रशासन के नाम पर लिखी मृतक के बेटे ने चिट्ठी में कहा कि उसके पिता को कोरोना था और कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई है जो उचित सावधानी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के पास आने के लिए रखनी चाहिए वह उसको रखना नहीं आता इसलिए प्रशासन द्वारा ही अंतिम संस्कार कर दिया जाए और उसने चिट्ठी में लिखा कि मैं अपने मर्जी से प्रशासन को अपने पिता का शव दे रहा हूं ऐसे में तहसीलदार गुलाब सिंह ने निभाया मानवता का उदाहरण देते हुए मेवाड़ का पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार किया

यह भी पढ़े :

जब एसपी रियाज को आया गुस्सा, कांग्रेसी नेता की फार्चूनर कर ली जप्त

यूरोप के हाल सुनिए, सतना के आशीष से

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button