किराया चोर निकला कम्प्टूर बाबा, कितने सालो से नहीं दिया गाड़ी मालिक को पैसा

बरेला के रहने वाले कंप्यूटर बाबा( Computer Baba)की मुश्किलें लगातार बढ़ती ही जा रही है आश्रम के जमींदोज होने के बाद उन्हें कार में घुमाने वाले एक व्यक्ति ने इंदौर के डीआईजी (DIG Office)ऑफिस में जाकर शिकायत की है शिकायत में बताया गया है कि कंप्यूटर बाबा (Computer Baba)ने अप्रैल 2019 से किराया नहीं दिया जबकि ₹40 हजार प्रति माह से कार लगी हुई थी शिकायत में यह भी कहा गया है कि बाबा जबलपुर स्थित अपने पैतृक गांव बरेला में छुप कर बैठे हुए हैं जब भी बाबा को कॉल करो तो ना वह फोन उठा रहे हैं ना उनके चेले फोन उठा रहे

सितंबर 2018 में हुई थी कंप्यूटर बाबा के पास कार अटैच
मूसाखेड़ी के इदरीस नगर निवासी तोमर ने डीआईजी कार्यालय पर आवेदन दिया और बताया कि उसने अपनी कार कंप्यूटर बाबा के यहां सितंबर  2018 से 40  हजार  रुपए माहने अटैच की थी अप्रैल 2019 तक तो उसे हर माह किराया मिला पर इसके बाद से अभी तक उसका 3 लाख  60 हजार रुपए किराया बाकी है किराया नहीं मिलने सेवर कार की किस्ते तक नहीं भर पा रहा है
 बाबा का असली नाम रमाशंकर पटेल –   8 करोड़ की संपत्ति चेले के नाम
तोमर ने कहा कि बाबा का असली नाम देव दास त्यागी नहीं बल्कि रमाशंकर पटेल है वह अविवाहित शिक्षक है उसके चार भाई हैं वह एक दिन अचानक घर से भाग गए और 8 साल बाद बाबा बनकर लौटे आज बाबा के पास 20 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है उसने अपने चेले राजा यादव के नाम पर 2 करोड़ गोविंद पटेल के नाम 5 करोड़ की संपत्ति कर रखी है
 
बाबा ने चेलो  को दिलवा दिया बंदूक के लाइसेंस
शिकायतकर्ता तोमर का दावा है कि बाबा के 3 खास चेले राजा यादव निवासी सुल्तानगंज जिला रायसेन रामबाबू यादव और गोविंद पटेल दोनों निवासी सिलवानी रायसेन हैं इन्हें बाबा ने कलेक्ट्रेट में सेटिंग कर एक ही दिन में बंदूक के लाइसेंस दिलवाए वही तोमर पर भी अलग-अलग 17 अपराधिक मामले दर्ज हैं उसका दावा है कि अधिकांश में वह बरी हो चुका है

AAD

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button