कमलनाथ की टीम 11 तैयार, विंध्य के नेता गायब

भोपाल 13 दिसंबर । लंबी भागदौड़ मान मनोबल और मशक्कत के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेसी यानी कमलनाथ ने महत्वपूर्ण पदों के लिए 11 नाम फाइनल कर दिए हैं नेता प्रतिपक्ष के अलावा उप नेता प्रतिपक्ष भी नियुक्त किया जाएगा संगठन के महत्वपूर्ण पदों पर शेष 9 लोगों की प्रतिष्ठा की जाएगी यह 11 नेता भी पूरे मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी का काम करेंगे बाकी सभी लोगों के दायरे को सीमित कर दिया गया है टारगेट 2023 में फिर से जय जय कमलनाथ करना है

जो नाम फाइनल हुए हैं उनमें से पहला नाम बाला बच्चन का है बाला बच्चन कमलनाथ के विश्वास पात्र हैं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के लिए लगभग इनका नाम फाइनल है दूसरे नंबर पर सचिन यादव हैं सचिन यादव कमलनाथ की पिछड़ा वर्ग राजनीति का चेहरा है उपनेता प्रतिपक्ष के यह लगभग दावेदार माने जा रहे हैं और इनका नाम लगभग फाइनल भी है कमलनाथ ने सुप्रीम कोर्ट की रूलिंग के खिलाफ उनके 14% आरक्षण को 24% कर दिया था सज्जन सिंह वर्मा कमलनाथ की टीम के प्रणव मुखर्जी हैं योग्य हैं यदि कोई पद मिल गया तो कमलनाथ के लिए खतरा हो सकते थे इसीलिए संगठन में कोई भी महत्वपूर्ण पद उन्हें दिया जाएगा लेकिन काम होगा एटीएस की तरह कमलनाथ को नुकसान पहुंचाने वालों का सामना करना जीतू पटवारी संगठन में महत्वपूर्ण पद और ऐसे सभी काम करेंगे जिसके कारण मीडिया में सुर्खियां मिले जैसे सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में आम सभा एवं पार्टी का प्रचार आदि जयवर्धन सिंह दिग्विजय सिंह के चिरंजीव जीतू पटवारी के पद के दावेदार हैं परंतु पूरे प्रदेश की जिम्मेदारी नहीं है पीसी शर्मा कमलनाथ के प्रति निष्ठावान प्रमाणित करने वाले पार्टी के महत्वपूर्ण महत्वपूर्ण भोपाल और कर्मचारी राजनीति में हर्ष यादव और ब्रजेन्द्र सिंह राठौर बुंदेलखंड के 5 जिलों में रामनिवास रावत पार्टी में महत्वपूर्ण ज्योतिराज सिंधिया को नुकसान पहुंचाया जा सके करवा दिए जाएं लखन सिंह यादव ग्वालियर चम्बल में कालनाथ के विश्वासपात्र

सीएम शिवराज का एक और बड़ा फैसला अब डाक्टर नहीं प्रशासन चलाएगा अस्पताल

कमलनाथ टीम में सबसे बड़ी बात यह है कि विंध्य क्षेत्र और महाकौशल क्षेत्र के नेताओं को बिल्कुल दरकिनार कर दिया गया है किसी भी नेता को इस टीम में जगह नहीं मिल पाई है यहां तक कि पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल को भी इसमें जगह नहीं मिली है ना ही पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल को इसमें जगह मिली है अजय सिंह राहुल अपने प्रभाव क्षेत्र को लेकर काफी काफी आक्रामक हैं वहां कमलनाथ की कांग्रेस नही बल्कि राहुल कांग्रेस काम करती है यही वजह है कि जबलपुर एवं महाकोशल सहित बघेलखंड में किसी को भी यहां शामिल नहीं किया गया है

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button