इमरती देवी को हारने के बाद भी मंत्री का दर्जा दिलाने पर अड़े सिंधिया !

भोपाल 29 नवम्बर । उपचुनाव में भले ही डबरा से इमरती देवी चुनाव हार गई हो लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया इमरती देवी को मंत्री पद दिलाना चाहते हैं वह चाहते हैं कि इमरती देवी भले ही चुनाव हार गई हो किंतु उन्हें सरकार में सम्मानजनक पद मिलना चाहिए ताकि वह 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तैयार हो सके जबकि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ इमरती देवी को पद देने से पहले पार्टी के संस्कार और नीतियों से परिचित कराना चाहते हैं

वरिष्ठ पत्रकार श्री राजेश शर्मा की रिपोर्ट के अनुसार ज्योतिरादित्य सिंधिया चाहते हैं कि श्रीमती इमरती देवी को महिला वित्त विकास निगम का चेयरमैन बना कर कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिलाया जाए इसके अलावा उन्होंने विधायक पंकज चतुर्वेदी को भाजपा का प्रवक्ता और विधायक संत राम को भारतीय जनता पार्टी में प्रदेश उपाध्यक्ष बनाने की इच्छा जताई है

MP आधा सैकड़ा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं समाप्त

इमरती देवी 2018 का विधानसभा चुनाव जीतने के बाद सुर्खियों में आ गई थी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जब उन्हें कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री बनवाया कब वह अपनी शपथ ही नहीं पढ़ पाई राष्ट्रीय गौरव के अवसर पर मुख्यमंत्री का संदेश वाचन नहीं कर पाई वर्तमान में जब सरकारी दस्तावेज में लॉकडाउन, क्वॉरेंटाइन, आइसोलेशन, वैक्सीनेशन जैसे अंग्रेजी के शब्द धड़ल्ले से उपयोग किए जाते हैं ऐसे में मंत्रियों का उच्च शिक्षित होना अनिवार्य हो गया है

MP में अगले साल खुलेंगे स्कूल आदेश जारी

चुनाव हारने के बाद भी इमरती देवी सुर्खियों में रही अटपटे बयान देती रही उन्होंने पहले कहा कि सरकार हमारी है हमें मंत्री पद से कौन हटा देगा तमाम विवाद के बाद मुख्यमंत्री को इस्तीफा सौंपा लेकिन अभी भी इसी तरह के बयान देकर सुर्खियों में बनी हुई है

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button