आइलैण्ड है मप्र का हनुवंतिया, जानिए खूबिया

भोपाल, 20 नवम्बर (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हनुवंतिया सिंगापुर के सेंटोसा आइलैण्ड जैसा सुंदर है। सेंटोसा आइलैण्ड के भ्रमण के दौरान ही उन्हें हनुवंतिया को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की प्रेरणा मिली थी। यहां का गहरा नीला पानी समंदर जैसा है। आइलैण्ड ऐसा दृश्य देखने को शहरवासी तरसते हैं। आज मध्यप्रदेश पर्यटन में हनुवंतिया का विशेष स्थान है।

मुख्यमंत्री चौहान ने यह बातें शनिवार शाम को खण्डवा जिले के पर्यटन स्थल हनुवंतिया (आइलैण्ड) में जल-महोत्सव 2021-22 का शुभारंभ करते हुए कही। उन्होंने कहा कि हनुवंतिया में सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ ही विभिन्न साहसिक गतिविधियाँ स्कूबा डायविंग, ज्वाय राइड, हॉट एयर बैलून आदि प्रारंभ की जायेंगी। पर्यटन स्थल हनुवंतिया (आइलैण्ड) में पर्यटक हेलीकॉप्टर में बैठने का आनंद भी ले सकेंगे।

स्वच्छ सर्वेक्षण में म.प्र. को मिले पुरस्कारों के लिए दी बधाई

उन्होंने स्वच्छ सर्वेक्षण में मध्यप्रदेश को मिले पुरस्कारों के लिए सभी संबंधितों को बधाई दी। स्वच्छ सर्वेक्षण में मध्यप्रदेश का इंदौर शहर लगातार पाँचवीं बार देश में प्रथम रहा है। प्रदेश के अन्य क्षेत्रों ने भी स्वच्छता में कीर्तिमान स्थापित किये हैं। 25 हजार जनसंख्या वाले कचरा मुक्त शहरों की श्रेणी में मूंदी के देश में प्रथम आने पर मुख्यमंत्री ने बधाई दी।

टंट्या मामा के बलिदान दिवस पर निकलेगी पवित्र कलश यात्रा

मुख्यमंत्री ने कहा कि निमाड़ क्षेत्र जनजातीय नायकों टंट्या भील, भीमा नायक, खज्या नायक आदि की गौरव गाथा कहता है। टंट्या मामा ने यहाँ जन्म लिया। उनके कड़े यहाँ रखे हैं। प्रदेश में टंट्या मामा का बलिदान दिवस 4 दिसम्बर को पातालपानी में मनाया जायेगा। इसके पूर्व उनके जन्म-स्थान खण्डवा जिले की पंधाना तहसील के बडदा ग्राम से उनकी पावन मिट्टी का कलश लेकर यात्रा निकाली जायेगी, जो 4 दिसम्बर को पातालपानी में संपन्न होगी। उन्होंने प्रमुख सचिव संस्कृति शिव शेखर शुक्ला को निर्देश दिये कि हनुवंतिया में आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर एक प्रदर्शनी लगाई जाये, जो हमारे देश भक्तों की गौरव गाथा प्रदर्शित करे।

आइलैण्ड है मप्र का हनुवंतिया

चौहान ने कहा कि पर्यटन विभाग पर्यटन के क्षेत्र में अद्भुत कार्य कर रहा है। पर्यटन स्थल हनुवंतिया (आइलैण्ड) जैसे जगह माध्यम के से रोजगार के अवसर सृजित होते हैं। प्रदेश में पर्यटन को अधिक से अधिक बढ़ावा दिया जायेगा। ग्रामीण पर्यटन भी प्रारंभ किया जा रहा है। उन्होंने वन मंत्री विजय शाह की माँग पर चारखेड़ा में बर्ड वॉच सेंटर तथा नाइट सफारी शुरू किये जाने के निर्देश भी दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी वर्ग की आजीविका प्रभावित न हो, इस उद्देश्य से प्रदेश में कोरोना संबंधी सारे प्रतिबंध समाप्त कर दिये गये हैं। प्रतिबंध हटने के बावजूद भी हमें सभी सावधानियाँ बरतनी होगी। सभी कोरोना वैक्सीन के दो डोज आवश्यक रूप से लगवा लें। और पर्यटन स्थल हनुवंतिया (आइलैण्ड) जैसे जगह पर आये

शिवराज सरकार गाय को घास खिलाने पर टेक्स वसूलेगी

वन मंत्री विजय शाह ने कहा कि हनुवंतिया क्षेत्र में नर्मदा नदी के विभिन्न टापुओं का पर्यटन की दृष्टि से विकास किया जायेगा। चारखेड़ा में बर्ड वॉचिंग सेंटर एवं नाइट सफारी प्रारंभ किये जा सकते हैं। संत सिंगाजी तीर्थ-स्थल के लिये नाव चलाई जायेगी। यहाँ पानी पर हवाई जहाज उतरने की व्यवस्था कर हवाई सेवा भी प्रारंभ की जा सकती है, हनुवंतिया (आइलैण्ड) को विख्यात किया जाएगा 

प्रारंभ में प्रमुख सचिव संस्कृति, पर्यटन एवं जनसम्पर्क शिव शेखर शुक्ला ने जल-महोत्सव की विस्तृत रूपरेखा प्रस्तुत की। सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल एवं विधायक नारायण पटेल ने भी संबोधन दिया।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button