Vastu tips: सीढ़ियों के नीचे नहीं होनी चाहिए ये चीजें, बनती हैं बर्बादी का कारण

Vastu tips: आमतौर पर सभी फाउंड्री और पक्के घरों में सीढ़ियां होती हैं। घर बनाते समय आपको पारिस्थितिक नियमों पर ध्यान देना होता है। क्योंकि अगर घर का माहौल ठीक से रखा जाए तो सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है और सुख-समृद्धि बनी रहती है। कई प्रकार की पारिस्थितिक समस्याएं हैं जिन्हें संबोधित करने की आवश्यकता है। घर की सीढ़ियों को लेकर भी कुछ ईको रूल्स होते हैं, जिनका पालन जरूर करना चाहिए। क्योंकि सीढ़ी को सफलता का मार्ग माना जाता है।

Vastu tips:

अगर घर की सीढ़ियां ईको फ्रेंडली न हों तो उससे तमाम तरह की परेशानियां शुरू हो जाती हैं। इसलिए घर बनाते समय आपको सीढ़ियों के किनारे का ध्यान रखना होगा।

बस्तु में कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें सीढ़ियों के नीचे नहीं रखना चाहिए। नतीजतन, घर की आर्थिक स्थिति बिगड़ती है और व्यक्ति गरीब हो जाता है। जानिए सीढ़ियों के नीचे कौन सी चीजें नहीं रखनी चाहिए। पारिस्थितिकी तंत्र के अनुसार घर की सीढ़ियां कैसी दिखनी चाहिए, इसके बारे में और जानें।

Vastu tips:

सीढ़ियों के नीचे भूलकर न रखें से सामान

सीढ़ियों के के नीचे काफी जगह होती है। इसका इस्तेमाल करने के लिए कुछ लोग यहां रसोईघर, पूजाघर, शौचालय या फिर स्टोर रूम बना लेते हैं। लेकिन वास्तु के हिसाब से यह बिल्कुल गलत माना गया है।  बस्तु के अनुसार सीढ़ियों के नीचे अंधेरा नहीं होना चाहिए। इसलिए आपको यहां एक छोटा जीरो पावर बल्ब लगाने की जरूरत है। साथ ही सीढ़ियों के नीचे कचरा न रखें।

Vastu tips:

आग का सामान जैसे जनरेटर, वाटर कूलर, एसी मोटर या इलेक्ट्रॉनिक सामान सीढ़ियों के नीचे नहीं रखना चाहिए। इससे घर में पारिस्थितिक दोष और नकारात्मकता आती है। आप सीढ़ियों के नीचे गमले में पेड़ लगा सकते हैं। हालांकि इस जगह को अतिरिक्त न भरें। सजावट के लिए दो या चार बर्तन रखे जा सकते हैं।

Vastu tips:

इसे भी पढ़े-watchOS 9 के साथ आ रहा है कुछ नया अपडेट, आप भी जानिए क्या है खबर

सीढ़ियों की दिशा

पारिस्थितिकी तंत्र में दिशाएँ विशेष रूप से महत्वपूर्ण हैं। वास्तु के अनुसार घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में सीढ़ी बनाना शुभ माना जाता है। इससे घर में धन की वृद्धि होती है। वहीं घर के मध्य भाग में कभी भी सीढ़ियां नहीं बनानी चाहिए। क्योंकि यहाँ ब्रह्मा रहते हैं। साथ ही उत्तर-पूर्व दिशा में सीढ़ियां नहीं बनानी चाहिए। सीढ़ियों के संबंध में ध्यान रखें कि सीढ़ियों की संख्या हमेशा विषम होनी चाहिए।

इसे भी पढ़े-Healthy breakfast : बच्चों को नाश्ते में खिलाना चाहते है कुछ टेस्टी और हेल्दी तो आज ही ट्राय करें यह चिल्ला रेसिपी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button