नहीं रहीं बालिका वधू की ‘दादी सा’, 75 वर्षीय सुरेखा सीकरी का निधन

तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता रह चुकी अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उन्होंने 75 वर्ष की उम्र में आखिरी सांस ली। मशहूर सीरियल बालिका वधू में दादी सा की भूमिका निभाने वाली सुरेखा के निधन से मनोरंजन जगत में शोक की लहर है।

साल 2020 में सुरेखा ब्रेन स्ट्रोक का शिकार हुई थीं। इसके बाद से वह लगातार बीमार चल रही थीं। रिपोर्ट्स के अनुसार सुरेखा दूसरे ब्रेन स्ट्रोक के बाद काफी परेशानी में थीं। ब्रेन स्ट्रोक के बाद सुरेखा पर इलाज का तेजी से असर नहीं हो रहा था। वह लंबे समय तक अस्पताल में रही थीं। उनके फेफड़ों में पानी भर गया था और दवाइयों का जैसा असर उनपर होना चाहिए वैसा नहीं हो रहा था। ब्रेन स्ट्रोक के कारण बने क्लॉट को इलाज के जरिए निकाल दिया गया था। वहीं, आज सुबह दिल का दौरा पड़ने से अभिनेत्री का निधन हो गया।

सुरेखा इंडस्ट्री के दिग्गज कलाकारों में से एक थीं। 19 अप्रैल, 1945 को नई दिल्ली में जन्मीं सुरेखा ने उत्तर प्रदेश के अल्मोड़ा और उत्तराखंड के नैनीताल में जिंदगी गुजारी थी। एक्ट्रेस ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एक्टिंग सीखी।

एक्ट्रेस ने अपने करियर की शुरुआत 1978 में फिल्म ‘किस्सा कुर्सी का’ से की थी। इसके बाद एक्ट्रेस ने कई फिल्मों और हिट सीरियल्स में काम किया। सुरेखा ने फेमस सीरियल ‘बालिका वधु’ में दादी का रोल निभाया था। ये किरदार लोगों के बीच इतना फेमस हुआ कि सुरेखा को लोग ‘दादी सा’ के नाम से पहचानने लगे थे। सुरेखा सीकरी की कुछ प्रमुख फिल्मों में दिल्लगी, जुबैदा, सरफ़रोश, रेनकोट, तुम-सा नहीं देखा, जो बोले सो निहाल, हमको दीवाना कर गये, देव-डी, बधाई हो, शीर-कोरमा आदि शामिल हैं।

इसके अलावा सुरेखा सीकरी टेलीविजन जगत में भी सक्रिय थीं। उन्होंने बालिका वधु के अलावा कभी-कभी, परदेस में है मेरा दिल, एक था राजा एक थी रानी आदि धारावाहिकों में अभिनय किया था। सुरेखा सीकरी का निधन मनोरंजन जगत की अपूरणीय क्षति है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button