snn

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल, एक बिंदी को लेकर उठे सवाल

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल, एक शादीशुदा महिला के माथे पर बिंदी लगाने वाली और उसकी खूबसूरती में चार चांद लगाने वाली बिंदी… करीना कपूर के लिए ट्रोलिंग का सबब बन गई है. करीना के इस विज्ञापन से लोग इतने नाराज हैं कि सोशल मीडिया पर एक्ट्रेस का बॉयकॉट करने की मांग की जा रही है. तो वहीं, #nobindinobusiness उस ज्वैलरी ब्रांड के साथ ट्रेंड करके बिजनेस न करने की बात कर रही है।

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल, आइए आपको बताते हैं क्या है ये पूरी बहस। दरअसल करीना कपूर हाल ही में एक मशहूर ज्वैलरी ब्रांड के नए ऐड में नजर आई हैं। अक्षय तृतिया के विशेष अवसर का जश्न मनाने के लिए ज्वैलरी ब्रांड सोने और हीरे के आभूषण संग्रह की एक नई श्रृंखला लेकर आया है। जिसके विज्ञापन में करीना ने हैवी ज्वैलरी पहनी हुई है। हालांकि करीना इस ऐड में बेहद खूबसूरत लग रही हैं। उन्होंने पिंक लहंगा पहना हुआ है।

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल,

मेकअप किया जाता है और मैचिंग ज्वैलरी पहनी जाती है। हालांकि अक्षय तृतीय के इस विज्ञापन में बेवजह खड़ी करीना ने लोगों का ध्यान खींचा है.चूंकि अक्षय तृतीय का त्योहार हिंदुओं के लिए बेहद खास दिन होता है. इस विशेष अवसर पर हिंदू सुख, सौभाग्य और समृद्धि की कामना करते हुए घर में सोने के आभूषण खरीदना शुभ मानते हैं। लेकिन,

रीवा की राजकुमारी ने शेयर की अपने बेटे की पहली तस्वीर, बधाई का लगा तांता

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल,

अक्षय तृतीय के इस विज्ञापन में करीना के माथे से बिंदी खो जाने पर लोग आपत्ति जता रहे हैं. उन्होंने पूछा कि करीना ने अक्षय III के विज्ञापन में बिंदी क्यों नहीं लगाई। जिसके बाद सोशल मीडिया पर विवाद इतना बढ़ गया है कि लोगों ने बॉयकॉट करीना कपूर, बॉयकॉट मालाबार गोल्ड और नोबिंदिनोबासिन जैसे हैशटैग का सहारा लिया है। इस हैशटैग ने दिन भर सोशल मीडिया पर करीना कपूर का बहिष्कार करने की मांग की।

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल,
photo by google

Akshay Kumar के बाद Kareena Kapoor के एड का भी बना बवाल,

एक यूजर करीना ने एक नए विज्ञापन में अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा, “क्या आप उनकी बेशर्मी देखते हैं? हिंदू त्योहारों पर वे हिंदुओं से पैसे मांगते हैं लेकिन वे हिंदू परंपराओं और रीति-रिवाजों को खारिज कर रहे हैं। आप हमारी पुरानी परंपरा का अपमान करते हैं, शर्म करो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button