नीता अंबानी को महज 18 सेकंड में ये पहना देती हैं साड़ी, सोनम कपूर भी है इनकी दीवानी

नीता अंबानी She makes wear

भारतीय संस्कृति में महिलाओं (नीता अंबानी) के लिए साड़ी को एक बहुत ही प्रमुख स्थान मिला है और यही कारण है कि हम आज भी भारत के लगभग सभी राज्यों में साड़ी देखते हैं, चाहे साड़ी पहनने वाली महिलाओं का प्रकार या शैली कुछ भी हो।

अलग-अलग हालांकि साड़ी हर किसी के दिमाग में लगभग एक ही जगह होती है! शायद यही कारण है कि आज हमारे देश में सब्यसाची और युवा तहिलानी जैसे कई बड़े ब्रांड अपनी डिजाइनर साड़ी (नीता अंबानी) के लिए जाने जाते हैं

और ये ब्रांड बहुत लोकप्रिय हैं। आप जानते हैं, तो वह भी मूल्यवान है उसे। साड़ी का कोई मतलब नहीं, साड़ी पहनना अपने आप में एक कला है! इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे। आइए आपको एक ऐसी महिला से मिलवाते हैं

नीता अंबानी को महज 18 सेकंड में ये पहना देती हैं साड़ी, सोनम कपूर भी है इनकी दीवानी

जिसने साड़ी पहनने और पहनने की कला में महारत हासिल कर ली है, इतना ही नहीं इस महिला ने कई बेहतरीन रिकॉर्ड भी बनाए हैं और अपनी कला के दम पर अपना नाम बनाया है। यह कला

जी दरअसल हम बात कर रहे हैं डॉली जैन की जिन्होंने महज 18.5 सेकेंड में साड़ी बांधकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करा दिया. एक आश्चर्य की बात है

कि अभिनेत्रियां इतनी सही तरीके से साड़ी कैसे पहनती हैं? तो मैं कहता हूं कि एक्ट्रेस इसके लिए डोरी जैन जैसे साड़ी स्टाइलिस्ट की मदद लेती हैं!

वहीं अगर डॉली जैन की बात करें तो उन्होंने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं, जैसे डॉली जैन एक ही साड़ी को लगभग 325 तरीकों से स्टाइल करके पहन सकती हैं और यही वजह है कि आज वह सबसे अमीर और सबसे अमीर आदमी हैं।

नीता अंबानी पूजा के वक्त लाल रंग के कपड़ों में ही क्यों आती हैं नजर, जानिए इसके पीछे का कारण

ऊपर दिख रहा अंबानी परिवार भी डॉली जैन की कला का दीवाना है आपको बता दें कि बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियों के अलावा नीता अंबानी और श्लोका अंबानी जैसी हस्तियां भी डॉली जैन की ग्राहक बन चुकी हैं.

दीपिका पादुकोण और प्रियंका चोपड़ा( नीता अंबानी)से लेकर सोनम कपूर तक अक्सर अपने स्टाइल स्टेटमेंट देने वाली अभिनेत्रियों तक, उनके अनोखे टैलेंट पर फैंस हैरान हैं!

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button