snn

MP में पानी का संकट CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक, कहा-सप्लाई सिस्टम जल्दी ठीक करे

भोपाल, 25 अप्रैल (हि.स.)। MP में पानी का संकट CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश MP में पेयजल स्थिति को लेकर सोमवार को सुबह अपने निवास कार्यालय में पीएचई विभाग की आपात बैठक बुलाई। उन्होंने बैठक में पेयजल की समस्या को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि फील्ड में पीने के पानी की स्थिति में सुधार की जरूरत है। नियमित सप्लाई सुनिश्चित की जाए। वोल्टेज की प्रॉब्लम के कारण पानी नहीं दें पाना चिंताजनक है।

MP में पानी का संकट CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक

MP में पानी का संकट CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्याओं का समाधान करना और आवश्यक समन्वय कर हल निकालना हमारी जिम्मेदारी भी है और धर्म भी। अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आप इन निर्देशों पर पूरा वर्क आउट करें, एक्शन प्लान तैयार कर आज शाम तक मेरे समक्ष रखें। उन्होंने कहा कि प्रदेश MP हित और जनता की सेवा ही हमारी प्राथमिकता है। ‘टीम मध्यप्रदेश’ हर समय प्रदेश हित में कार्यरत है।

MP में पानी का संकट CM शिवराज ने बुलाई आपात बैठक उन्होंने निर्देश दिये कि नियमित जल आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। वोल्टेज की प्रॉब्लम के कारण पानी नही दें पाना चिंताजनक है। विद्युत विभाग से समन्वय कर जल उपलब्ध कराएं। मेरे मन मे तकलीफ है कि लोगों को पानी समय पर नहीं मिल पा रहा, यह आपकी डयूटी है कोई समस्या हो तो समय पर अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि लो प्रेशर बिजली के कारण टंकियों में पानी नहीं भर पाने जैसी समस्याओं और गैप्स को चिन्हित कर तत्काल समाधान किया जाये। आप इन निर्देशों पर पूरा वर्क आउट करे, एक्शन प्लान तैयार कर आज शाम तक मेरे समक्ष रखे। आज शाम की बैठक में ग्रामीण विकास, नगरीय विकास, ऊर्जा विकास के प्रमुख अधिकारी भी पूरा वर्क आउट कर आएं।

Digvijay’s के मुस्लिम प्रेम की सोनिया दरबार में शिकायत, कमल नाथ भी नाराज

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मेरे मन में तकलीफ है कि लोगों को पानी समय पर नहीं मिल पा रहा है, यह आपकी डयूटी है यदि कोई समस्या हो तो समय पर अवगत कराए। जितना इंफ़्रा बना हो उसका उपयोग कर पानी दें। जहां आवश्यक हो पानी का परिवहन कराएं। इस टीम की ड्यूटी है कि पानी हर घर में उपलब्ध हो। उन्होंने गर्मी के मौसम में प्रदेश में पेयजल और पानी की सुचारू सप्लाई को लेकर निर्देश दिए और कहा कि फील्ड में पेयजल की स्थिति में सुधार की जरूरत है। नियमित जल आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button