नदी की तेज धार में 4 घंटे तक फसे रहे 4 बच्चे, प्रशासन ने रेस्क्यू कर निकाला

सिंगरौली : भारत में मानसून ने दस्तक दे दी है अधिकांश जगहों पर बारिश का कहर जारी है लगातार हो रही बारिश के कारण कई भाई आवाज तस्वीरें भी सामने आ चुकी है जिसमें कि लोगों के घरों में पानी से लेकर मकान कितने तक की खबरें मिल रही हैं ऐसे में नदी नालों का जलस्तर में भी काफी वृद्धि देखने को मिली है बात अगर हम मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले की करें तो मानसून की इस बारिश ने यहां पर भी कहा ढाया है आज सिंगरौली जिले के जरहा गांव दिमाग से लगी हुई ना नदी आज अपना रौद्र रूप धारण कर ली जिसके फलस्वरूप 4 बच्चों की जान पर आ पड़ी जिस किसी ने यह नजारा देखा वह पूरी तरह से स्तब्ध रह गया ।

क्या है मामला

सिंगरौली जिले के जरहा गांव से सटे हुए म्यार नदी गांव के ही 4 बच्चे नवनीत कुमार , प्रिंस , अशोक केवट, प्रिंशु नदी में मछली पकड़ने गए हुए थे और अचानक से नदी का जलस्तर बढ़ जाने के कारण तेज बहाव के बीच में 5 गए ऐसे में बच्चों की चीख-पुकार सुनकर गांव के लोग एकत्र हो गए एवं गांव के ही स्थानीय लोगों के द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। आपको बताते चलें कि नदी का बहाव इतना तेज था कि गांव के ही तैराक हार मान बैठे जिसके बाद जिला प्रशासन को सूचना दी गई और जिला प्रशासन हरकत में आ गया ।

एसडीआरएफ की टीम ने बच्चों को सुरक्षित निकाला

बच्चों के नदी में फंसे होने की सूचना के उपरांत हरकत में आए जिला प्रशासन ने मौके की गंभीरता को भागते हुए मोर्चे को संभाला एवं जिले के एसडीआरएफ टीम के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गया । लगभग 2 घंटे कड़ी मशक्कत के बाद चारों नदी में फंसे हुए बच्चों को सुरक्षित निकाल लिया गया मौके पर जिले के आला अधिकारी मौजूद रहे इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग का अमला भी मौके पर रहा ।

प्रशासन की लापरवाही आई सामने

सिंगरौली जिले में हुए इस हादसे के बाद प्रशासन की लापरवाही उजागर हुई है जिससे की चार मासूम की जान जाते जाते बची । संबंधित मामले पर यदि गौर करें तो बाकायदा जिला प्रशासन लोगों को अलर्ट करना चाहिए था जिसमें की जिला प्रशासन के द्वारा ऐसा कोई भी कदम नहीं उठाया गया

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button