सतना में चाचा भतीजे ने मिलकर किया भतीजी से दुष्कर्म

सतना: सतना में 5 वर्षीय बच्ची के साथ उसके रिश्ते के चाचा और उसके नाबालिग भाई द्वारा मिलकर लगातार दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है जब बच्ची को पेट में तेज दर्द हुआ और इलाज के दौरान उन्हें पता चला तो उन्होंने बच्ची से पूछा जिसके बाद इस घटना का खुलासा हुआ शर्म के मारे डरे सहमी बच्ची के स्वजनों ने 12 जुलाई को थाने में जाकर शिकायत की जिसके बाद मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है यह मामला कोलगवा थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहां 5 वर्षीय मासूम के साथ दो करीबी रिश्तेदारों ने मोबाइल में कार्टून दिखाने के बहाने बच्ची से दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया यह पूरा मामला 11 जुलाई की रात का बताया जा रहा है जिसका खुलासा 13 जुलाई मंगलवार देर रात पुलिस ने किया

मोबाइल में दिखाते थे अश्लील फिल्म

बताते चलें कि पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपियों ने बच्ची को 11 जुलाई को मोबाइल में अश्लील फिल्म भी दिखाई फिर दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया रात को पीड़िता अचानक दर्द से परेशान होकर होने लगी माता-पिता इसकी वजह नहीं समझ पाए दूसरे दिन पेट में दर्द होने की आशंका पर जब इलाज के लिए अस्पताल लेकर गए तो दुष्कर्म की बात सुनकर परिजनों के होश उड़ गए सामाजिक शर्म और लिहाज के कारण स्वजन उस दिन तुरंत थाने नहीं गए लेकिन 12 जुलाई की दोपहर को हिम्मत जुटाकर कोलगवा थाने गए जहां उपनिरीक्षक वर्षा सोनकर को बच्ची के साथ हुई दरिंदगी से अवगत कराया गया

जिसके बाद उन्होंने पीड़िता को अस्पताल ले जाकर स्वास्थ्य परीक्षण कराया और फिर मामला न्यायालय में प्रस्तुत कर धारा 164 के तहत बयान दर्ज करवाए जिसमें बच्ची ने खुलासा किया कि बीते कई दिनों से आरोपित और उसका छोटा भाई अलग-अलग समय पर किसी ना किसी बहाने से बुलाकर अश्लील हरकत कर रहे थे यहां तक कि फोन पर अश्लील वीडियो भी दिखाते थे बच्ची ने किसी तरह आपबीती सुनाते हो बताया कि रिश्ते के चाचा ने 10 जुलाई को मोबाइल पर कार्टून दिखाने के बहाने अपने पास बुलाकर ज्यादती की थी इस बयान के बाद पुलिस ने आरोपित भाइयों के विरुद्ध आईपीसी की धारा 376 (च) (छ) (ब) (ढ) 34 एवं पॉक्सो एक्ट की धारा5/6 का अपराध पंजीबद्ध किया गया है

गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

बता दे कि कोलगवा पुलिस ने आरोपितों के खलीलाफ अपराध दर्ज करने के बाद मामले की विवेचक और उपनिरीक्षक वर्षा सोनकर ने अपने सहयोगी के साथ आरोपियों की तलाश शुरू कर दी और 12 घंटे के अंदर ही मंगलवार सुबह गांव में छापा मारकर आरोपित और नाबालिग को पकड़ लिया पूछताछ के पश्चात जिला अस्पताल में मेडिकल और कोरोनावायरस जांच के बाद आरोपित को जिला न्यायालय में पेश कर केंद्रीय जेल भेज दिया गया वहीं अपचारी बालक को किशोर को न्याय बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत कर बालसुधार गृह भिजवा दिया गया है

संवाददाता नरेंद्र कुशवाहा

संवाददाता सतना न्यूज डॉट नेट

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button