MP : योगाचार्य जिस्मफरोसी करवाती थी, 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों के साथ गिफ्तार

सेक्स रैकेट में फंसी भोपाल की योगाचार्य अनुपमा तिवारी को गिरफ्तार कर जमानत पर छोड़ दिया गया वह ऐसी महिलाओ की तलाश कर जिस्मफरोसी करवाती थी जो या तो अपने पति से अलग रहती हो या पैसे की उन्हें किल्ल्त हो अनुपमा उसके घर जाती थी और उसे सामुदायिक कार्य में शामिल होने के लिए कहती थी। कभी उन्होंने खुद को पत्रकार, कभी शिवसेना नेता का संचारक और कभी सामाजिक कार्यकर्ता बताया

भोपाल, 9 नवंबर | सेक्स रैकेट में फंसी भोपाल की योगाचार्य अनुपमा तिवारी को गिरफ्तार कर जमानत पर छोड़ दिया गया वह ऐसी महिलाओ की तलाश कर जिस्मफरोसी करवाती थी जो या तो अपने पति से अलग रहती हो या पैसे की उन्हें किल्ल्त हो अनुपमा उसके घर जाती थी और उसे सामुदायिक कार्य में शामिल होने के लिए कहती थी। कभी उन्होंने खुद को पत्रकार, कभी शिवसेना नेता का संचारक और कभी सामाजिक कार्यकर्ता बताया।

उसकी पहचान देखकर महिलाएं उसके साथ हो जाती थीं। बाद में वह किसी न किसी वजह से उसे सीहोर कहकर बुलाते थे। यहां उन्होंने उनकी मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें वेश्यावृत्ति में धकेल दिया। जैसे ही महिला तैयार होती, वह उसे सेक्स रैकेट के व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ देती । ये सभी महिलाएं बैरागढ़ की रहने वाली हैं। यह बात खुद अनुपमा ने पुलिस के सामने कही।

MP : योगाचार्य जिस्मफरोसी करवाती थी, 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों के साथ गिफ्तार
MP : योगाचार्य जिस्मफरोसी करवाती थी, 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों के साथ गिफ्तार

एक और तथ्य यह है कि अनुपमा केवल विवाहित महिलाओं को ही फंसाती थी। एएसपी सीहोर समीर यादव ने कहा कि अनुपमा का मानना ​​था कि ऐसी महिलाएं आज्ञाकारिता और बदनामी के डर से जल्दबाजी में अपनी निजता का खुलासा नहीं करती हैं। इस वजह से हालांकि वह लंबे समय से वेश्यावृत्ति में लिप्त थी, लेकिन उसका राज सामने नहीं आ रहा था।

लंबे समय तक चलने वाला खेल

पुलिस के मुताबिक अनुपमा लंबे समय से देह व्यापार का धंधा चला रही थी। उसके संपर्क में 15 से ज्यादा महिलाएं बताई जा रही हैं। हालांकि पुलिस ने रविवार रात छापेमारी कर 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों, चालक, महिला प्रबंधक व परिचालक को गिरफ्तार किया है.

MP : योगाचार्य जिस्मफरोसी करवाती थी, 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों के साथ गिफ्तार
MP : योगाचार्य जिस्मफरोसी करवाती थी, 4 लड़कियों, 3 ग्राहकों के साथ गिफ्तार

ऐसी औरतों की तलाश करती थीं अनुपमा

अनुपमा सीहोर के बाहर की महिलाओं को सेक्स रैकेट के लिए बुलाती थी। इसके लिए वह सामाजिक कार्य करने के नाम पर उन्हें घर पर रखती थी। उसे ऐसी महिलाओं की तलाश की, खासकर वे जो शादीशुदा थीं। पति से झगड़े के बाद अलग रह रही हो, पति के पास पैसो की किल्ल्त हो ऐसी महिलाओ से वह वह गपशप करती और उससे दोस्ती करती। काम और पैसे के लालच में महिलाएं उसे फंसाकर देह व्यापार में शामिल कर लेती थीं। एक बार जब वह इस व्यवसाय में शामिल हो गए, तो उनके पास इससे छुटकारा पाने का कोई रास्ता नहीं था।

दिवाली के दिन हुई पार्टी और दरोगा जी बनाना चाहते थे बार बाला से संबंध लेकिन हो गए गिरफ्तार

सभी जमानत पर छूटे

पुलिस ने शुरुआती कदम के बाद सभी महिलाओं और आरोपियों को जमानत पर रिहा कर दिया. हालांकि, पुलिस अब महिलाओं के बारे में अधिक जानकारी से इनकार कर रही है क्योंकि उन्हें रात में छोड़ा गया था। पुलिस का कहना है कि सभी को कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुसार बांड भरने के बाद रिहा कर दिया गया है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button