गुना : ये आत्महत्या नहीं, हत्या है, मप्र के मुख्यमंत्री पर हो मुकदमा दर्ज-डीवायओ

गुना, 20 जुलाई। पड़ोसी जिले राजगढ़ में आत्महत्या करने वाले बेरोजगार युवक कुंदन राजपूत की घटना के खिलाफ डीवायओ द्वारा मंगलवार को राज्यव्यापी विरोध दिवस मनाया गया। इस अवसर डीवायओ के एक प्रतिनिधिमंडल ने डिप्टी कलेक्टर आरबी सिंडोसकर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि बेरोजगारी का भयावह दौर चल रहा है। सरकारों की युवा और रोजगार विरोधी नीतियों का दंश प्रदेश व देश का नौजवान भुगत रहा है।

जिसके चलते नौजवान हताशा निराशा के कारण आत्महत्या जैसे घातक कदम उठाने तक को मजबूर हो रहे हैं। राजगढ़ के आत्महत्या करने वाले बेरोजगार युवक कुंदन राजपूत ने वीडियो बनाकर मुख्यमंत्री के नाम जो सुसाइड नोट लिखा है, उससे साफ जाहिर है कि उसने बेरोजगारी के चलते दु:खद कदम उठाया। हमारा मानना है वे आत्महत्या नहीं, सरासर हत्या है। इसकी सारी जिम्मेवारी मप्र के मुख्यमंत्री की है?

इस मौके पर डीवायओ ने कहा कि आत्महत्या कोई विकल्प और समाधान नहीं है। ज्ञापन में कहा गया कि पिछले 4 साल से प्रदेश में कोई भी रिक्तियां नहीं आई हैं। इस कारण बेरोजगार युवाओं के द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले बढ़ रहे हैं।

ज्ञापन में मांग की गई कि पीईबी का भर्ती कैलेंडर अविलंब जारी किया जाए। सभी लंबित भर्तियों पर जल्द नियुक्ति हो, सभी विभागों के रिक्त पदों पर स्थाई भर्ती हो, कोविड स्टाफ को नियमित किया जाए। इसके अलावा वर्ग 3 शिक्षकभर्ती परीक्षा जल्द आयोजित हो, माध्यमिक शिक्षक भर्ती के पदों में पदवृद्धि हो। वहीं आत्महत्या करने वाले बेरोजगार युवक कुंदन राजपूत के परिवार किसी सदस्य को शासकीय नौकरी दी जाए।

 

 

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button