कोर्ट का बड़ा फैसला : नाबालिक से सेक्स शब्द बोलने पर 1 साल की कैद

मुंबई: मुंबई की एक विशेष अदालत ने 13 साल की बच्ची से सेक्स के बारे में बात करने के आरोप में बस कंडक्टर को 1 साल की सजा सुनाई है अदालत ने आरोपी चंद्रकांत सुदाम कोली को POCSO एक्ट की धारा 12 के तहत दोषी पाया और 1 साल की सजा के साथ उस पर ₹15000 का जुर्माना भी लगाया है जुर्माना अदा न करने पर उसे 3 महीने का कठोर कारावास और भुगतना होगा

बस में बच्ची अकेली थी

बता दें कि यह घटना साल 2018 की है पूर्वी उपनगर में रहने वाली एक बच्ची मुंबई बेस्ट की सरकारी बस से रोज सुबह स्कूल जाती थी और दोपहर तक घर लौटती थी जुलाई 2018 में घटना वाले दिन बस में दो या तीन ही लोग बैठे थे इस दौरान बस कंडक्टर चंद्रकांत सुदाम कोली उसके पास आया और बगल में बैठ गया कोली ने बच्ची से पूछा कि क्या वह सेक्स के बारे में कुछ जानती है जिस पर बच्ची ने कहा कि वह उससे इस तरह के सवाल ना पूछे वही कंडक्टर कुछ देर के लिए चला गया लेकिन जब वह बच्ची के पास फिर लौटा और उसने फिर से सेक्स पर सवाल किया बच्ची ने फिर से उसे इस तरह के सवाल ना पूछने के लिए कहा और जैसे उसका बस स्टॉप आया है वह बस से उतर गई

कमरे पर ले जाकर युवती के साथ किया दुष्कर्म,किसी से कहने की बात पर दी धमकी

 

लड़की ने स्कूल जाने से मना किया तो मां को हुआ शक

बताते चलें कि कुछ दिनों बाद जब लड़की ने बस से स्कूल जाने से मना कर दिया तो पीड़िता की मां ने उससे पूछा लेकिन उसने इसकी जानकारी नहीं दी पीड़िता के दोस्त से पूछा तो उसने इसकी जानकारी दी और उसने आरोपी कोली की पहचान की इसके बाद मां ने आरोपी के खिलाफ प्रकरण मामला दर्ज करवाया इसके बाद पुलिस ने अगले दिन आरोपी को अरेस्ट कर लिया था

सिर्फ 12 दिन में आरोपी को जमानत मिली थी

गिरफ्तारी के बाद आरोपी चंद्रकांत सुदाम कोली केवल 12 दिनों के लिए जेल गया था इसके बाद उसे जमानत मिल गई थी के वकीलों ने अपील करने के लिए सजा के निलंबन के लिए एक आवेदन दायर किया है कोर्ट ने इसे स्वीकार करते हुए सजा 30 दिन के लिए टाल दी है

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button