इस दिवाली वैष्णो देवी का यह सिक्का दिला सकता है आपको लाखों रुपए, पढ़िए कैसे होगी पैसों की बारिश

This Diwali Vaishno Devi coin can get you lakhs of rupees, read how money will rain

नई दिल्ली: वैष्णो देवी 5 दुर्लभ सिक्के यदि आप पुराने सिक्के या नोट जमा करना पसंद करते हैं, तो यह शौक आपके लिए बहुत कुछ ला सकता है।

दरअसल, कई ऐसे प्लेटफॉर्म हैं जहां पुराने सिक्कों और नोटों के शौकीन लोग इन प्राचीन वस्तुओं को मोटी रकम से खरीदते हैं। यदि आपके सिक्के संग्रह में माता वैष्णो देवी की तस्वीर के साथ ये 5 या 10 टका सिक्के हैं, तो आप घर बैठे लाखों टका के मालिक हो सकते हैं।

वैष्णो देवी 5 टका का एक दुर्लभ सिक्का है वास्तव में, वैष्णो देवी की तस्वीर वाले सिक्के को हिंदू धर्म में बेहद भाग्यशाली माना जाता है। कई लोग इसे मां का आशीर्वाद मानते हैं और इसे अपने पर्स में रखते हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसा करने के लिए उनके पास पैसे की कभी कमी नहीं होती। इन सिक्कों से जुड़ी और भी कई ऐसी ही मान्यताएं हैं। यही कारण है कि लोग नीलामी मूल्य पर 5 या 10 रुपये के सिक्के खरीदते हैं।

आपको बता दें कि इस तरह का सिक्का सरकार की ओर से 2002 में जारी किया गया था। इस सिक्के को कैसे बेचा जाए?
यदि आपके पास वैष्णो देवी की तस्वीर वाला 5 या 10 मूल्य का सिक्का या नोट है, तो आप इसे विज्ञापन प्लेटफॉर्म क्विकर पर ऑनलाइन बेच सकते हैं।

लोग इस दुर्लभ सिक्के को इस वेबसाइट पर खरीदकर मोटी कमाई कर रहे हैं.
देवी मां की तस्वीर वाला यह सिक्का आपको बना देगा करोड़पति
सबसे पहले Quikr . पर एक विक्रेता के रूप में खुद को पंजीकृत करें

फिर कॉइन इमेज पर क्लिक करें और अपलोड करें
वहां अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी दर्ज करें

वेबसाइट पर मांगी गई जानकारी को वेरीफाई करें
आरबीआई के निर्देशों का भी रखें ध्यान

केंद्रीय बैंक आरबीआई ने पुराने सिक्कों और ऐसे नोटों को बेचने के खिलाफ जनता को आगाह किया है। विशेषज्ञों का कहना है कि वेबसाइट पर ऐसे नोटों और दुर्लभ सिक्कों की ऑनलाइन बिक्री दोनों पक्षों के बीच बातचीत पर निर्भर करती है।

इसकी जांच – पड़ताल करें
आरबीआई के निर्देशों का भी रखें ध्यान
केंद्रीय बैंक आरबीआई ने पुराने सिक्कों और ऐसे नोटों को बेचने के खिलाफ जनता को आगाह किया है। विशेषज्ञों का कहना है कि वेबसाइट पर ऐसे नोटों और दुर्लभ सिक्कों की ऑनलाइन बिक्री दोनों पक्षों के बीच बातचीत पर निर्भर करती है।

इसमें आरबीआई की कोई भूमिका नहीं है। इससे बचने के लिए आरबीआई अपनी ओर से सतर्क है। ऐसे में लोगों को किसी भी तरह से धोखा नहीं देना चाहिए।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button