सिर्फ 5 हजार रुपए का निवेश कर शुरू करें यह बिजनेस, 30 हजार रुपए महीना कमाएंगे, सरकार देगी सब्सिडी

नई दिल्ली। अगर आप अपनी नौकरी के अलावा अतिरिक्त आय अर्जित करने की योजना बना रहे हैं या व्यवसाय का अवसर शुरू करने की सोच रहे हैं, तो हम आपको सिर्फ पांच हजार से सुरु होने वाले बिजनेस के बारे में बताते है जिससे आप हर महीने बंपर कमा सकते हैं। भारत में विशाल आबादी चाय (कुल्हड़ बनाने का व्यवसाय) की प्रशंसक है। रेलवे स्टेशनों, बस डिपो और हवाई अड्डों पर भी कुल्हड़ चाय की मांग है। ऐसे में कुल्हड़ बनाने और बेचने का व्यवसाय शुरू कर सकता है. सिर्फ पांच हजार रुपये में | आइए जानते हैं कैसे शुरू करें यह बिजनेस।

मोदी सरकार भी कर रही है प्रचार

केंद्र की मोदी सरकार भी कुल्हड़ की मांग बढ़ाने पर जोर दे रही है ताकि इसके कारोबार से जुड़े लोगों की आमदनी बढ़ सके. सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भी कुल्हड़ को बढ़ावा देने के लिए प्लास्टिक और पेपर कप में चाय देने पर रोक लगाने की मांग की, तो आप सिर्फ पांच हजार रुपये में इसे सुरु कर सकते है

सरकार इलेक्ट्रिक चाक प्रदान करती है

कुल्हड़ के कारोबार का विस्तार करने के लिए केंद्र सरकार ने कुमार अधिकारिता परियोजना लागू की है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार देशभर के कुम्हारों को बिजली के पहिये मुहैया कराती है. वे इससे कुल्हड़ समेत सभी मिट्टी के बर्तन बना सकते हैं। बाद में सरकार ने इन कुल्हड़ियों को भी कुम्हारों से अच्छी कीमत पर खरीदा।

सिर्फ 5 हजार रुपए का निवेश कर शुरू करें यह बिजनेस

मौजूदा दौर को देखते सिर्फ 5 हजार रुपए का निवेश कर शुरू किया जा सकता है। इसमें आपको सिर्फ थोड़ी जगह और साथ ही 5,000 रुपये खर्च करने होंगे। खादी ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष बिनोद कुमार सक्सेना ने पहले कहा था कि केंद्र सरकार ने 2020 में 25,000 इलेक्ट्रिक चाक वितरित किए थे।

पोस्ट ऑफिस की ये स्कीम हैरतअंगेज है, रोजाना बचाएं 95 रुपये और पाएं 14 लाख रुपये, जानिए

कुल्हड़ कितने पैसे में बेच सकता है?

चाय कुल्हड़ बेहद किफायती होने के साथ-साथ पर्यावरण की दृष्टि से भी सुरक्षित है। एक कप चाय की कीमत 50 से 100 रुपये के बीच होती है। वहीं, एक जग लस्सी की कीमत एक सौ पचास रुपये, एक जग दूध की कीमत एक सौ पचास रुपये और एक कप की कीमत एक सौ रुपये है। फेस्टिव और वेडिंग सीजन में इनकी डिमांड बढ़ जाती है। मांग बढ़ने पर उन्हें बेहतर कीमत मिलने की संभावना है।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button