India के इस गांव में है पुलिस की नो एंट्री, घर से भागे प्रेमियों के लिए परफेक्ट जगह है ये

India There is no police entry in this village

लव मैरिज का आइडिया अभी तक भारत (India) में पूरी तरह से अपनाया नहीं गया है। बहुत से लोग सोचते हैं कि यह बुरा है। खासकर अगर यह शादी अंतरजातीय विवाह है।

जब अलग-अलग धर्मों के दो लोगों का विवाह होता है, तो उन्हें समाज के विभिन्न प्रतिबंधों का सामना करना पड़ता है। कई मामलों में परिवार के सदस्य मान-प्रतिष्ठा के लिए खून भी बहाते हैं।

ऐसे में प्यार करने वाले कपल्स आज भी घर से भागने से डरते हैं. अगर आप भी किसी से प्यार करते हैं और अपना घर बसाने के लिए सुरक्षित जगह की तलाश में हैं तो यह खबर आपके काम आ सकती है।

India के इस गांव में है पुलिस की नो एंट्री, घर से भागे प्रेमियों के लिए परफेक्ट जगह है ये

भारत (India) में एक ऐसी जगह है जहां प्रेमियों की रक्षा होती है। यह स्थान है हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में बना शंचुल महादेव मंदिर। देश-विदेश से भाग चुके कई प्रेमियों को इस मंदिर में आश्रय दिया जाता है। उन्हें यहां रहने और खाने के लिए भी दिया जाता है।

कोई भी इस मंदिर (India )के अंदर आकर प्रेमियों को नुकसान नहीं पहुंचा सकता है। इसे घर से भागे हुए प्रेमियों के लिए सबसे सुरक्षित स्थान कहा जाता है।कोई भी प्रेमी जोड़ा जो घर से भागकर इस मंदिर में शरण लेता है, उसका यहां बहुत आतिथ्य होता है।

गांव (India) के लोग चाहने वालों को खूब आतिथ्य देते हैं। इसकी एक खास वजह है। दरअसल, गांव के लोगों का मानना ​​है कि प्रेमी जोड़े को पनाह नहीं देने पर भगवान नाराज हो जाएंगे. दरअसल, मान्यता के अनुसार पांडव वनवास के लिए इस स्थान पर आए थे।

तब लोगों ने उसे इस मंदिर में छिपा दिया। कौरवों के वहां आने पर शंचुल महादेव ने स्वयं उन्हें अपने गांव आने से रोका। उन्होंने कहा कि जो उनकी शरण में आए उनकी रक्षा करेंगे.इस मान्यता के आधार पर यहां शरण लेने आए लोग आज भी सुरक्षित हैं.

भारत पहुंचा कोरोना का नया वैरियंट, शिकार होने पर ना गंध ना स्वाद कम होता है, जानिए क्या है इसके लक्षण

यह परंपरा कई सदियों से चली आ रही है। यहां हर प्यार करने वाले जोड़े को खाने और रहने की जगह दी जाती है। पुलिस को भी गांव में प्रवेश करने से रोक दिया गया है।

गांव में किसी भी तरह का हथियार लाना मना है। साथ ही यहां कोई जोर से नहीं बोलता। ऐसे में प्रेमियों के लिए यह सबसे अच्छी जगह है।

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button