“यात्रीगण कृपया दें” – स्टेशन में ये आवाज किसकी है

आपने अक्‍सर सुना होगा कि‍ हर रेलवे स्‍टेशन पर एक आवाज गूंजती है ‘यात्रीगण कृपया ध्यान दें’। ये आवाज हमेशा एक सी लगती है। कई बार ट्रेनों में सफर करने वाले लोगों के मन मे यह सवाल भी उठता है क‍ि रेलवे स्‍टेशन में इतने सालों से गूँज रही ये आवाज़ किसकी है । आइए जानें कौन है इस आवाज के पीछे…

हर रेलवे स्टेशन पर गूंजने वाली आवाज ‘यात्रीगण कृपया ध्यान दें’ रेलवे एनाउंसर रही सरला चौधरी की हैं। उनकी आवाज इस एनाउंसमेंट के जरिए यात्रियों का ध्यान तुरंत अपनी ओर आकर्षित कर लेती है और लोग बड़े ध्यान से एनाउंसमेंट सुनने लगते है । अब सरला चौधरी रेलवे में एनाउंसमेंट के पद पर नहीं है लेकिन उनकी आवाज अभी भी इसके लिए एक्टिव है। सरला चौधरी ने 1982 में रेलवे एनाउंसमेंट के पद के लिए अप्लाई किया था। यहां टेस्ट हुआ और वह पास हो गई। इसके बाद सरला को रेलवे एनाउंसमेंट पद पर दैनिक मजदूरी पर रख लिया गया था।

1986 में सरला चौधरी का यह पद स्थाई हो गया। सरला बताती है जब रेलवे ने यह तय किया कि उनकी आवाज रिकॉर्ड की जाएगी तो इसके लिए उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ती थी। कंप्यूटर न होने से हर स्टेशन पर समय-समय पर पहुंच कर उन्हें एनाउंस करना पड़ता था। उस समय एक एनाउंसमेंट को रिकॉर्ड करने में 3 से 4 दिन लग जाते थे। कई अलग-अलग भाषाओं में यह रिकॉर्ड करने पड़ते थे। हालांकि बाद में रेलवे में तेजी से हुए बड़े बदलावों के चलते रेलवे स्टेशन के सारे एनाउंसमेंट संभालने की जिम्मेदारी ट्रेन मैनेजमेंट सिस्टम को हैंडओवर कर दी गई।

सरला चौधरी कई वर्षों पहले रेलवे से एनाउंसमेंट का काम छोड़ चुकी हैं । लेकिन सरला की आवाज के मुकाबले उस वक्त कोई और आवाज रेलवे को नहीं जँची तो रेलवे ने उनकी आवाज को स्टैंड बाय मोड पर सेव कर लिया और आज भी सरला चौधरी की प्री रिकार्डेड आवाज ‘यात्रीगण कृपया ध्यान दें’ यात्रियों के कानों में समय समय पर गूंजती रहती है। अक्सर लोग इस आवाज की तारीफ भी करते रहते हैं। सरला चौधरी कहती हैं कि उन्हें काफी खुशी होती है कि लोग बिना देखे उनकी आवाज की तारीफ करते हैं।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button