ट्रकों के पीछे लिखे “HORN OK PLEASE” में OK का क्या मतलब है ??

ट्रकों के पीछे लिखी शायरी । ट्रकों की साज-सज्जा। सड़क पर चलते वक्त उनके अलग अलग सुर में बजने वाले हॉर्न इत्यादि ने आपका ध्यान निश्चित ही खींचा होगा। कई ट्रकों के पीछे लगे हुए स्लोगन तो अपने आप में अनूठे होते है । जिनकी खूब चर्चा भी हम आपस मे करते है । इन सब के बीच एक चीज और भी है। लगभग हर ट्रक के पीछे लिखा होता है ‘Horn OK Please’ इसमें से ‘Horn Please’ का तात्पर्य तो हम सब जानते हैं, परंतु OK का क्या अर्थ होता है कभी सोचा है ?

Overtake का बदला हुआ रूप Ok
ऐसा कहा जाता है की शुरुआत में ट्रक के पीछे Overtake लिखा आता था जिससे व्यक्ति Overtake करने से पहले हॉर्न बजा कर सचेत कर सके . लेकिन कुछ समय के बाद नए ट्रकों पर Overtake की जगह केवल Ok ही लिखा जाने लगा. जो आज भी आप ट्रकों पर देख सकते है.

Ok का तात्पर्य On Kerosene भी
दिल्ली यूनिवर्सिटी की एक छात्रा ने इस पर रिसर्च की है उनका कहना है कि ‘Horn OK Please’ व्याकरण की दृष्टि से अशुद्ध है । आखिर बीच में लिखे OK का क्या तुक है ? इसको लेकर उनकी मान्यता है कि द्वितीय विश्व युद्ध के समय ट्रकों में ईंधन के रूप में (kerosene) कैरोसिन का इस्तेमाल होता था । कैरोसीन अत्यंत ज्वलनशील होता है । दुर्घटना होने में विस्फोटक का खतरा न हो , अतः ट्रकों के पीछे दूरी बनाए रखने एवं जिस ईंधन से ट्रक चल रहा है उनकी जानकारी देने के लिए OK लिखा जाने लगा जिसका मतलब था ON KEROSENE ।

हालांकि अब ट्रक डीजल से चलने लगे है लेकिन अभी भी “हॉर्न प्लीज” के बीच मे OK लिखा रहता है , जबकि इस तथ्य के आधार पर इसे OD मतलब On Diesel हो जाना चाहिए ।

 

महाराष्ट्र में ‘हॉर्न ओके प्लीज’ लिखने पर प्रतिबंध

महाराष्ट्र ने 2015 से ट्रकों , टैक्सियों इत्यादि वाहनों में हॉर्न ओके प्लीज लिखावाने पर प्रतिबंध लगा रखा है । यह प्रतिबंध राज्य ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ने लगाया था । उनका यह कदम ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए उठाया गया । ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ऑफिस के एक वरिष्ठ अधिकारी की माने तो जब गाड़ियों के पीछे ऐसा लिखा होता है तो उनके पीछे चल रहे वाहनों को हॉर्न बजाने के लाइसेंस मिल जाता है । इसका फायदा उठाते हुए कई शरारती तत्व बिना किसी मतलब के जोर-जोर से हॉर्न बजाते हैं।

डेस्क रिपोर्ट

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button