इस मंदिर में भाई बहन भी जाते हैं साथ तो बन कर लौटते हैं पति-पत्नी, जानिए हैरान करने वाले इस मंदिर की कहानी

इस मंदिर Brothers and sisters also go together,

 दुनिया में कई ऐसी अजीबो-गरीब (इस मंदिर) जगहें हैं, जिन्हें पढ़कर आपका  होश उड़ा जाएगा। आज हम आपको एक ऐसी अजीब-गरीब जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी सच्चाई आपके होश उड़ा देगी।

दरअसल यह विशेष स्थान उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में स्थित है, जिसे (इस मंदिर )कालपी के नाम से जाना जाता है। लंका मीनार नामक एक मीनार भी है। टावर में रावण और उसके परिवार के सदस्यों की मूर्तियां हैं। इस मीनार की ऊंचाई 210 फीट है,

जिसे मथुरा प्रसाद नाम के व्यक्ति ने 1 लाख 75 हजार रुपये की लागत से बनवाया था। लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल यह है कि रावण के लिए कोई मीनार क्यों बनाएगा? जहां एक महान विद्वान होने के बावजूद सीता का हरण रावण ने किया था।

इस मंदिर में भाई बहन भी जाते हैं साथ तो बन कर लौटते हैं पति-पत्नी

इस (इस मंदिर )मीनार की दो खास बातें हैं। पहली खास बात यह है कि इस मीनार के निर्माता मथुरा प्रसाद कई सालों से रामलीला में रावण की भूमिका निभाते आ रहे हैं। जिसके कारण उन्हें उनके वास्तविक नाम से कम और रावण के नाम से ज्यादा जाना जाता है।

मथुरा प्रसाद का निर्माण 1857 में हुआ था, जिसे पूरा होने में बीस साल का लंबा समय लगा था।

मुख्य रूप से भगवान शिव के भक्तों के कारण, टॉवर में एक शिव मंदिर भी बनाया गया है। इस मीनार पर चढ़ने में कुल सात फेरे लगते हैं। इसलिए किसी भाई-बहन को यहां आने की सलाह नहीं दी जाती है।

11 दिसंबर को आ सकती है धरती पर तबाही! आसमान से आ रहा है मौत का सामान

लोगों का मानना ​​है कि यहां एक लड़के ने एक लड़की के साथ सात फेरे लिए हैं। हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार जिस लड़के ने किसी लड़की के साथ सात फेरे लिए हैं, उसे उसका पति माना जाता है।

सतना न्यूज डेस्क

ख़बरें पूरे विंध्य की http://satnanews.net/

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button