FEATUREDदेशमध्यप्रदेश

शहडोल के 16 मजदूरों की औरंगाबाद ट्रेन हादसे में मौत

औरंगाबाद | महाराष्ट्र (Maharashtra ) के औरंगाबाद (Aurangabad) में ट्रेन से कटकर 16 लोगों की मौत ने एक बार फिर देश को हिलाकर रख दिया है. अभी तक की जानकारी के मुताबिक ये सभी मजदूर महाराष्ट्र के जलगांव में आयरन फैक्ट्री में काम करते थे. ये लोग औरंगाबाद से मध्यप्रदेश के लिए निकली स्पेशल ट्रेन को पकड़ना चाहते थे. इन सभी लोगों को उम्मीद थी कि वह भुसावल जाकर ट्रेन पकड़ लेंगे.

IMG-20210305-WA0003
20210615_185746_0000_640x360

बताया जाता है कि करीब 45 किलोमीटर तक चलने के बाद सभी थक गए और ट्रैक पर ही आराम करने लगे. थकान की वजह से ज्यादातर लोगों को नींद आ गई और वह ट्रैक पर ही सो गए. इसी दौरान वहां से ट्रेन गुजरी और सभी लोग इसकी चपेट में आ गए. औरंगाबाद की एसपी मोक्षदा पाटिल ने बताया कि मारे गए सभी मजदूर भुसावन से स्पेशल ट्रेन के जरिए मध्य प्रदेश लौटना चाहते थे. ये सभी मजदूर मध्य प्रदेश के शहडोल के रहने वाले थे.

शहडोल के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कुछ मजदूरों के नाम भी सामने आए है जो शहडोल के उमरिया जिले के बताए जा रहें है । धर्मेंद्र सिंह, ब्रिजेंद्र सिंह,  निर्बेश सिंह, धन सिंह, प्रदीप सिंह, राज भवन, शिव दयाल, नेमसहाय सिंह, मुनिम सिंह, बुधराज सिंह, अचेलाल, रविंद्र सिंह ये उन कुुुुछ मजदूूूरो के नाम है जो औरंगाबाद की स्टील फैक्ट्री में काम करते थे और मध्यप्रदेश के लिए वहांं से निकले थे ।

प्रधानमंत्री ने जताया दुःख 

मजदूरों ट्रेन हादसे में मौत की घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुःख व्यक्त किया है । रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी मजदूरों की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए घटना की जाँच के आदेश दिए है ।

मध्यप्रदेश सरकार ने किया ऐलान

औरंगाबाद की घटना पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने भी दुःख व्यक्त किया है । उन्होंने ट्वीट करते हुए मृतकों के परिवारों जनों के लिए 5 – 5 लाख रु की आर्थिक मदत का ऐलान किया है ।

AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here