FEATUREDसतना

आखो के सामने फसल हुई बर्बाद

सतना ; कोरोना लॉक डाउन के बीच मध्य प्रदेश सरकार ने गेहूं उपार्जन काम शुरू कर दिया है सतना में भी इसके लिए जिला प्रशासन ने तैयारी कर रखी थी लेकिन बेमौसम बारिश ने जिला प्रशासन तैयारी की पोल खोल दी है ।उपार्जन केंद्र की खस्ता हाल ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है आज अचानक हुई तूफान और बारिश से किसान की रखी मेहनत का रंग उड़ने लगा है।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

करोना महामारी में अब किसान की एक मात्र उम्मीदे अपनी फसल से है लेकिन उपार्जन केंद्र की बदतर हालात के चलते अनाज खुले में भगवान भरोसे रखा हुआ है जो बेमौसम बारिश की भेंट चढ़ रहा है जिला प्रशासन की बदहाल व्यस्था किसान की हर उम्मीदों पर पानी फेर रहा है जिले भर में उपार्जन के लिए 110 केंद्र बनाए गए है जिनमे 65 हजार से अधिक किसानों का पंजीयन किया गया है और उन्हें मेसेज कर उनकी फसल की खरीदी की जा रही है लेकिन केंद्रों पर अव्यस्था के आलम को आज तब देखा गया जब अचानक तुफान और बारिश होने लगी केंद्रों उपार्जन के लिए आयी फसल को अपनी आंखों के सामने खराब होता देख किसान अब दहशत में है

रीवा के हृदय रोग विशेषज्ञ निकले कोरोना पॉजटिव, दिल्ली में है चिकित्सक, शहर में हड़कंप

AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here