FEATUREDमध्यप्रदेश

कोरोना संक्रमित पिता की मौत के बाद बेटे ने नहीं लिया शव

कोरोना संकट के बीच रिश्ते भी शर्मसार हो रहे है कोरोना संक्रमण जिंदगी पर ही नहीं रिश्तो और जज्बातों पर भी असर डाल रहा है ऐसा ही एक मामला सामने आया है भोपाल से जहां पर एक बुजुर्ग प्रेम सिंह मेवाड़ की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई वह भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे जहां उन्होंने आखिरी सांस ली, मौत के बाद शव परिवार वालों को देने की नियत से मर्चुरी में रखवा दिया गया और उसके परिजनों को सूचना दी गई लेकिन बेटे ने एक टका सा जवाब देकर पिता के अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी भी प्रशासन पर डाल दी और शव लेने से इंकार कर दिया

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

प्रशासन के नाम पर लिखी मृतक के बेटे ने चिट्ठी में कहा कि उसके पिता को कोरोना था और कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई है जो उचित सावधानी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के पास आने के लिए रखनी चाहिए वह उसको रखना नहीं आता इसलिए प्रशासन द्वारा ही अंतिम संस्कार कर दिया जाए और उसने चिट्ठी में लिखा कि मैं अपने मर्जी से प्रशासन को अपने पिता का शव दे रहा हूं ऐसे में तहसीलदार गुलाब सिंह ने निभाया मानवता का उदाहरण देते हुए मेवाड़ का पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार किया

यह भी पढ़े :

जब एसपी रियाज को आया गुस्सा, कांग्रेसी नेता की फार्चूनर कर ली जप्त

यूरोप के हाल सुनिए, सतना के आशीष से

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here