FEATUREDमध्यप्रदेश

मंत्री बनने के बाद सिंधिया समर्थक मंत्री ने दिया बड़ा बयान

भोपाल : शिवराज कैबिनेट में शामिल होने के बाद सिंधिया समर्थक गोविंद सिंह का एक बड़ा बयान सामने आया है जिसमें कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह का कहना है कि इस शपथ ग्रहण समारोह के बाद एक कैबिनेट की बैठक रखी गई है उसमे जो निर्णय होगा वह उसका पालन करेंगे अभी कोरोना संकट ही सबसे बड़ा है और कैबिनेट में लेकर के इसी से निपटने के संबंध में चर्चा की जाएगी गोविंद सिंह का यह भी कहना है कि शिवराज के हम पांच पांडव मिलकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे और जनता की सुरक्षा को सुनिश्चित कराएंगे विभागीय सवाल पर उन्होंने कहा कि जो भी विभाग हमें मिलेगा हम उसे प्राथमिकता के आधार पर लेंगे और कोरोना की लड़ाई मिलकर साथ लड़ेंगे, गोविंद सिंह राजपूत ने यह भी कहा कि कांग्रेस में किसी को तवज्जो नहीं मिल रही थी लेकिन बीजेपी में सब की सुनी जाती है सूत्रों की मानें तो अभी विभागों में का बंटवारा नहीं होगा हालांकि सभी मंत्रियों को दो-दो संभागों की जिम्मेदारी दी जा सकती है

IMG-20210305-WA0003
20210615_185746_0000_640x360

मंत्री बनने के बाद कमल पटेल ने भी कहा कि शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय नेतृत्व ने जो उन पर भरोसा जताया है वह उसमें खरा उतरने का पूरा प्रयास करेंगे और कोरोना के खिलाफ जारी जंग में हम सभी लोग मिलकर साथ काम करेंगे

कांग्रेस ने खड़े किये मंत्रिमंडल पर सवाल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा ने शिवराज कैबिनेट पर सवाल खड़े किए हैं विवेक तन्खा ने संविधान की धारा 164 ए का हवाला देकर कहा है कि कम से कम 12 मंत्री बने थे लेकिन केवल पांच मंत्री बनाया गया है जो पूरी तरह से असंवैधानिक है

यह भी पढ़े :

राशन पाने रात भर लाईन खड़े रहे गरीब

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here