सतना

हद है लापरवाही की, हम ना सुधरेंगे

सतना जिले के अमरपाटन का हैं जहाँ रोजमर्रा की वस्तु सब्जी मंडी में लोगो ने लॉक डाउन की उड़ाई धज्जियां, हजारों की तादात में सब्जी मंडी के अंदर लोग कर रहे खरीदारी, प्रशासन बना मूकदर्शक देश के अंदर कोरोना जैसी इस महामारी से हड़कंप मचा हुआ है, जिसको लेकर केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा लगातार ऐतियात बरतने के लिए कहा जा रहा है, और इसके बचाओ हेतु देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश विगत 21 दिनों के लिए लॉक डाउन की व्यवस्था की हैं, जिसमे केंद्र सरकार के मुताबिक रोजमर्रा की वस्तु मेडिकल, स्वास्थ्य, राशन, सब्जी की छूट दी गई है, इसके लिए सतना जिले में प्रशासन ने सुबह 7 बजे से शाम 5:30 बजे तक का समय भी निर्धारित किया है

IMG-20210305-WA0003
20210615_185746_0000_640x360

अमरपाटन में धरासायी हुआ लाॅकडाउन और धारा १४४

अमरपाटन की तस्वीर
अमरपाटन की तस्वीर

रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं पर दुकान खोलने की छूट प्रदान करने से नही हो रहा प्रधानमंत्री की सोशल डिस्टेंस बनाकर रखने की अपील का पालन, कही महगी न पड़ जाये ये छूट, जिस प्रकार से जन शैलाब उमडा है बजारों में उससे कही नही हो रहा नियम कायदे का पालन, जबकि विश्वव्यापी आपदा में भारत सरकार लगतार जनता से हाथ जोड़कर अपील की थी, कोविड-19 कोरोना अभी भी लाइलाज है, इसमें प्रदेश में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है, पुलिस प्रशासन ने कल तक लाठियां भांज भांज कर नियमों के पालन करवाने में खून पसीना बहाया आज वह कहीं भी नही बचा, शासन के आदेश का पालन करवाने में अब पुलिस और प्रशासन भी नाकाम साबित हो रहा है, लगातार पुलिस और प्रशासन द्वारा शोशल डिस्टेंस का पालन करने माइक पर चिल्ला रही है, लेकिन अब जनता को कही भी सुनाई नही दे रहा है, सतना जिले में भी कलेक्टर ने 144 धारा लागू कर रखी है, उसका पालन अब कैसे होगा समझ के परे है, वही अब जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन दोनों मीडिया से कुछ भी कहने से बच रहा है।

AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here