BREAKING NEWSFEATUREDमध्यप्रदेश

सत्ता का खेल पहुंचा अंतिम दौर में !

भोपाल – सियासी संकट के बीच मध्य प्रदेश में सत्ता का संघर्ष अंतिम दौर में पहुंच चुका है आज मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रतिनिधिमंडल के साथ राजभवन पहुंचे जहां उन्होंने राज्यपाल से मिलकर फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की और राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा, शिवराज सिंह चौहान ने मांग की है कि 16 मार्च से पहले फ्लोर टेस्ट करा लेना चाहिए क्योंकि सरकार अल्पमत में है और सरकार के 22 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं जिसके चलते मौजूदा कांग्रेश की कमलनाथ सरकार अपना बहुमत खो चुकी है और इनके पास सरकार चलाने का कोई संवैधानिक अधिकार नहीं है इसलिए प्रतिनिधिमंडल ने मांग की कि तुरंत फ्लोर ट्रस्ट होना चाहिए आज हुई इस मुलाकात में प्रतिनिधिमंडल के साथ शिवराज सिंह चौहान के अलावा नरोत्तम मिश्रा रामपाल सिंह और भूपेंद्र सिंह भी शामिल रहे इस मुलाकात की एक बड़ी बात यह भी है कि आज हुई मुलाकात में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और हरियाणा के पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी और महा अधिवक्ता पुष्पेंद्र कौरव भी राजभवन पहुंचकर लालजी टंडन से मुलाकात कर चुके हैं इसके अलावा विधानसभा अध्यक्ष ने सभी विधायकों को 15 मार्च की शाम तक पहुंचने का नोटिस भी जारी किया है यदि 16 मार्च से सत्र प्रारंभ होता है तो बीजेपी चाहती है कि उसके पहले कमलनाथ सरकार फ्लोट में खुद को साबित कर दे यहां आपको यह भी जानना जरूरी होगा कि कमलनाथ खुद फ्लोर टेस्ट की मांग कर चुके हैं लेकिन अभी मामला अटका हुआ है लेकिन आज बीजेपी के द्वारा की गई मांग के बाद लगता है कि सत्ता के बीच जो खींचातान मध्यप्रदेश में चल रही है वह अंजाम तक पहुंचने वाली है

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003
AAD

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here