मध्यप्रदेश

हाईटेक होने वाली है मध्यप्रदेश की ट्रैफिक पुलिस, यहाँ पढ़े क्या बदलेगा

भोपाल  – मध्यप्रदेश की पुलिस अब हाईटेक संसाधनों से लैस होने जा रही है. हासिल जानकारी के मुताबिक पुलिस विभाग ने ख़ासकर ट्रैफिक महकमे के लिए नए-नए उपकरण खरीदे हैं. इनमें से कुछ उपकरण ट्रैफिक पुलिस को  सौंप दिए गए है और कुछ उपकरणों को दिया जाना अभी बाकी है. इन उपकरणों में बॉडी वॉर्न कैमरा, स्पीड रडार और साउंड मीटर शामिल हैं.
विश्वस्त सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार रोड सेफ्टी क्रियान्वयन समिति की बैठक में इन उपकरणों को खरीदने की अनुमति दी गई थी. पहली खेप में ब्रीथ एनेलाइजर आए जिन्हें बांट दिया गया हैं. इसके अलावा 500 बॉडी वॉर्न कैमरे लिए गए हैं. इनमें से 220 ट्रैफिक पुलिस और बाकी के थाना पुलिस को दिए जाएंगे. इसके अलावा स्पीड रडार और और साउंड मीटर भी पुलिस को दिए जाएंगे ।
क्या है उपकरणों का उपयोग 
डी वॉर्न कैमरा– ट्रैफिक को संभालने के दौरान अक्सर पुलिस पर अभद्रता, अवैध वसूली के आरोप लगते हैं. बॉडी वॉर्न कैमरों के जरिए पुलिस और वाहन चालक की हर एक गतिविधि कैद होगी काम में पारदर्शिता लाने एवं अभद्रता और अवैध वसूली पर रोंक लगाने के लिए बॉडी वॉर्न कैमरा का इस्तेमाल किया जाएगा.
स्पीड रडार– तेज गति से वाहन चलाने वालों पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस को स्पीड रडार दिए जा रहे हैं. यह स्पीड रडार पहले प्रयोग के तौर पर इस्तेमाल किए गए थे, लेकिन अब इनकी खरीदारी की गई है और जल्द ही इसे प्रदेश पुलिस को सौंप दिया जायेगा
साउंड मीटर– यह वाहनों के शोर पर कड़ी नजर रखेगा ज्यादा शोर करने वाले वाहनों की इससे पहचान की जाएगी
AAD

IMG-20210305-WA0003
20210615_185746_0000_640x360

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here