कोई तो है! पृथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन, शोधकर्ताओं ने की पुष्टि

पृथ्वी के बाहर जीवन है या नहीं यह शोध का एक दिलचस्प विषय है। क्या इस पूरे ब्रह्मांड में पृथ्वी पर जीवन है या दूर के आकाश बादलों के पार भी जीवन संभव है? अंतरिक्ष अनंत है, इसकी कोई सीमा नहीं है। मनुष्य को अंतरिक्ष के बारे में बहुत सारी जानकारी मिल सकती है, लेकिन प्रकृति ने समय-समय पर पृथ्वी पर रहने वाले बुद्धिजीवियों को जानकारी प्रदान की है।

जापान के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि पृथ्वी के बाहर भी जीवन है। जापानी शोधकर्ताओं ने एक क्षुद्रग्रह में अमीनो एसिड की खोज की है। उन्होंने हायाबुसा 2 मिशन द्वारा क्षुद्रग्रह रयुगु से लौटने वाले नमूनों में 20 अमीनो एसिड की पहचान की।

दूर आसमान में कोई रहता है…

वैज्ञानिकों का दावा है कि अंतरिक्ष से आने वाले क्षुद्रग्रह में 20 अमीनो एसिड पाए गए हैं। “ये अमीनो एसिड सुनिश्चित करते हैं कि पृथ्वी के बाहर दूर के आकाश में जीवन है,” उन्होंने कहा। होक्काइडो विश्वविद्यालय में भूविज्ञान के प्रोफेसर हिसायोशी युरीमोटो ने ProfoundSpace.org को बताया कि अरबों साल पहले पृथ्वी को देने वाले पानी और कार्बनिक पदार्थ जीवन का एक संभावित स्रोत है।

कोई तो है! पृथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन, शोधकर्ताओं ने की पुष्टि
photo by google

पृथ्वी के बाहर का जीवन
शोधकर्ताओं का कहना है कि सभी जीवित चीजों को प्रोटीन की आवश्यकता होती है और यह अमीनो एसिड से बना होता है। इससे सिद्ध होता है कि पृथ्वी के पार भी जीवन है। इससे पहले वैज्ञानिकों ने अपने शोध में कहा था कि क्षुद्रग्रहों में कार्बन और कार्बनिक पदार्थ होते हैं। जापानी शोधकर्ताओं द्वारा किए गए इस अध्ययन में यह बात साबित भी हुई है।

सामने आएंगे जीवन से जुड़े राज
जापानी अंतरिक्ष एजेंसी JAXA (JAXA) इस अध्ययन को लेकर बहुत आशावादी है। JAXA को लगता है कि इस शोध के माध्यम से कई रहस्यों का खुलासा किया जा सकता है। पृथ्वी के बाहर जीवन की क्या संभावना है। क्या वास्तव में दुनिया के बाहर मानव जीवन संभव है? इन सवालों के जवाब भी इस अध्ययन से मिल सकते हैं।

कोई तो है! पृथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन, शोधकर्ताओं ने की पुष्टि
photo by google

इसे भी पढ़े-जानिए बॉबी से ईशा गुप्ता तक, ‘आश्रम 3’ के कलाकारों ने कितनी ली फीस ?

अमीनो एसिड जीवन के निर्माण खंड हैं
बता दें कि अमीनो एसिड को जीवन का निर्माण खंड कहा जाता है। क्योंकि जीवित रहने के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है और प्रोटीन अमीनो एसिड से बना होता है।

कोई तो है! पृथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन, शोधकर्ताओं ने की पुष्टि
photo by google

एस्टेरॉयड किसे कहते हैं

एस्टोरॉयड को ग्रहों या तारों के टूटे हुए टुकड़े कहा जाता है। एस्टोरॉयड चट्टान के एक छोटे टुकड़े से लेकर सैकड़ों मीटर लंबी चट्टान तक हो सकते हैं। वे कभी-कभी आकाश में तेज गति से चलते हुए देखे जाते हैं, जिन्हें हम टूटा हुआ तारा कहते हैं। आंकड़ों के मुताबिक सौरमंडल में करीब 20 लाख क्षुद्रग्रह हैं।

कोई तो है! पृथ्वी के अलावा कहीं और भी है जीवन, शोधकर्ताओं ने की पुष्टि
photo by google

इसे भी पढ़े-बिल्ली ने भी पूरी की ग्रैजुएशन! किस्सा जानकर उड़ जाएंगे होश

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button