FEATUREDसीधी-सिंगरौली

SINGRAULI के इस डॉक्टर ने पेश की मिशाल, रात भर किया कोविड-19 संक्रमितो का इलाज और सुबह लिए सात फेरे

सिंगरौली 30 अप्रैल। जिले में कोरोना वायरय में लगातार बेतहासा वृद्धि हो रही है। प्रतिदिन 2 सैकड़ा के आस पास लोग संक्रमित हो रहे है। ऐसे में धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर अपनी पूरी टीम के साथ रात-दिन एक करके अपनी सेवा दे रहे है। लेकिन आज एक युवा डॉक्टर ने जिले वासियो का दिल जीत लिया। ट्रामा सेंटर के कोविड इंचार्ज डॉक्टर गंगा बैस आज वैवाहिक जीवन में प्रवेश कर लिए। डॉ.गंगाराम वैश्य की शादी दुधीचुआ गायत्री मंदिर में संपन्न हुआ।

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

डॉक्टर गंगा वैश्य कोरोना काल मे रात के 3-3 बजे तक कोविड के मरीजो को देखते आये हैं, आप हमेशा मरीजों की सेवा करते रहे । ट्रामा सेंटर में पदस्थ डॉ.गंगा वैश्य जिनकी आज शादी हो रही है,बहुत ही खुशी की बात है लेकिन आपको जानकर थोड़ा आश्चर्य होगा की शादी के दौरान दूल्हा अपने तैयारियों में लगा रहता है और अपने परिवार के साथ व्यस्त रहता है लेकिन यहाँ तो इसके विपरीत कार्य हो रहा है। यहाँ दूल्हा तैयारियों में व्यस्त नही बल्कि मरीजो में मस्त है। जी हां डॉ.गंगा वैश्य देर रात तक कोरोना सक्रमित मरीजो के देखभाल में ही व्यस्त रह गए। लोगो के बताए अनुसार करीब 2 बजे रात तक ट्रामा सेंटर में ही रहे है और अगली सुबह उन्हें दूल्हा बनना था,जिसकी तनिको भी परवाह नही किये।

डॉ.गंगा ने पेश किया मिसाल -कोरोना जैसे महामारी में यदि वास्तव में कोई कोरोना से मुकाबला कर रहा है तो वो डॉक्टर है। ऐसे में ज्ञात हो की अभी हाल में कोरोना वार्ड ट्रामा सेंटर की जिम्मेदारी युवा डॉक्टर गंगा वैश्य के हाथों में है। फिर क्या वो कैसे अपनी जिम्मेदारियों से दूर भाग सकते थे। सुबह से शाम तक कोरोना संक्रमितो के बीच रहकर उनका हौसला बढ़ाने वाले श्री वैश्य उस वक्त भी नही रुके जब हनके हाथ पिले थे। सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली की अचानक किसी कोरोना संक्रमित मरीज की तबियत खराब हो गई फिर क्या डॉक्टर गंगा वैश्य फौरन ट्रामा सेंटर पहुंचकर उपचार शुरू कर दिए। फिलहाल मरीज की हालत अब सामान्य है लेकिन जिसने भी सुना की कल सुबह डॉक्टर साहब दूल्हा बनने वाले है सब दंग रह गए। किसी को यकीन नही हो रहा था कि ऐसा भी हो सकता है।

कोविड-19 गाईड लाईन का पालन करते हुए लिये सात फेरे

युवा डॉक्टर गंगा वैश्य ने मानवता की मिसाल पेश की है। उनके इस हौसले और जज्बे की चहुओर सराहना हो रही है। जिले वासियों ने इनके लंबी उम्र की कामना की और कुछ लोगो ने तो सोशल मीडिया अकाउंट पर यहां तक लिख दिया कि डॉक्टर वैश्य से अन्य डॉक्टर को कुछ सीखना चाहिए। फिलहाल डॉक्टर वैश्य ने कोविड-19 नियमो का पालन करते हुए आज सात फेरे लेकर शादी के बंधन में बंध गए।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here