FEATUREDमध्यप्रदेश

सीएम शिवराज का ऐलान अब आगनवाड़ी में गाय का दूध पिएंगे बच्चे

भोपाल 22 नवम्बर । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बात का ऐलान किया है कि अब मध्य प्रदेश में आंगनबाड़ियों में अंडा नहीं बल्कि गौ माता का दूध बच्चों को पिलाया जाएगा सीएम ने कहा कि गौ माता का हर उत्पाद अमृत है पर्यावरण बचाना है तो हमें गो कास्ट का उपयोग करना ही होगा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह ऐलान मध्य प्रदेश के आगर मालवा में किया है यहां आयोजित कार्यक्रम में शिवराज सिंह चौहान ने 36 लाख 55 हजार के 5 निर्माण कार्यों का भूमि पूजन किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि गाय का दूध गोबर और गोमूत्र जैसे उत्पादों को मध्य प्रदेश की सरकार बढ़ावा देगी सरकार द्वारा कानून बनाया जाएगा जिससे गौशालाओं का संचालन संचालन किया जाएगा पंचायतों में गोवंश प्रबंधन के लिए 15 वे वित्त आयोग से राशि का आवंटन किया जाएगा मध्यप्रदेश में हम अधिक गौशाला खोलेंगे अकेली सरकार नहीं समाज से सहयोग लेते हुए घर गौशालाओं का संचालन होगा समाज सेवी संस्थाओं के साथ गौसालाये चलाएंगे

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

एमपी में पहली गौ कैबिनेट, लिए गए यह फैसले

मध्यप्रदेश में गोवंश के इलाज के लिए संजीवनी योजना को प्रारंभ किया जाएगा सीएम ने कहा कि हम बिजली सड़क पानी की सुविधा दिलाने के लिए एक सभी काम करेंगे लेकिन गौ सेवा का काम भी हमारी सरकार पूरी ताकत के साथ करेगी इसके लिए हमने मंत्रियों की समिति बनाई है यह काम अकेले सरकार नहीं करेगी आपका सहयोग भी चाहिए गाय का गोबर धरती के लिए अमृत का काम करता है गोबर का खाद हमें बीमारियों से बचाएगा गोमूत्र से बनी दवाइयां कई बीमारियां दूर करेंगी पर्यावरण की रक्षा के लिए कास्ट को जलाना फायदेमंद है

MP में वेबसिरीज के चुम्बन सीन पर बवाल, रीवा में FIR

उन्होंने कहा कि हम सभी चीजें तय करेंगे कि अब परिवार में किसी को चिता जलाने के लिए लकड़ी नहीं बल्कि गो कास्ट का उपयोग किया जाए अगर होलिका दहन करना हो तो कंडो से होलिका जलाई जाए सीएम ने कहा कि गाय बचेगी तब हम आत्मनिर्भर बनेंगे उन्होंने कहा कि गोबर का खाद हमे बीमारियों से बचाएगा गौशाला के लिए सरकार अधिनियम बनाएगी उन्होंने कहा कि गाय हमारी माता है उनमें 33 करोड़ देवी देवताओं का वास होता है जिस घर में गौमाता रहती है उस घर में सकारात्मक ऊर्जा फैलती है

No Slide Found In Slider.

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here