FEATUREDसीधी-सिंगरौली

SIDHI में कबाड़ी की मौत पर थाना प्रभारी निलंबित

सीधी 9 नवम्बर । सीधी में एक ठेला कबाड़ व्यवसायी को चोरी के आरोप में दबंगो ने जमकर पिटाई की हालत गम्भीर होनो पर सिटी कोतबाली पुलिस के हवाले कर दिया,जिसके बाद युवक की मौत हो गाई गुस्साये परिजनों ने सड़क पर मृतक का शव रखकर जमकर हंगमा कर दिया

Dr Anuj Pratap Singh
JANTA
IMG-20210305-WA0003

आठ घण्टों से अधिक तक चले इस हंगामे को शांत करने में जिला प्रसासन के पासिने छूट आये,पीड़ित परिवार ने कोतबाली थाना प्रभारी और दबंग चार आरोपियों पर मारपीट करने से मौत होने का आरोप लगा रहे है,कलेक्टर ने इस मामले में मजिस्ट्रेटियल जांच करने और पीड़ित परिवार को चार लाख मुआवजा राशी देने का ऐलान किया है,वहीं पुलिस अधीक्षक ने मारपीट करने वाले चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर कोतबाली थाना प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

पूरा मामला सीधी शहर के मड़रिया बस्ती का है जहां कि रोजाना की तरह हाथ ठेला से कबाड़ का व्यवसाय करने वाला सोनू बंसल हर जगह कबाड़ का व्यवसाय करता था। रविवार को वो सीधी शहर के करौदिया इलाके में गया था इसी दौरान अचानक कुछ दबंग लोगों से दोपहर चोरी के मामले को लेकर बाद विवाद हुआ,यह बात विवाद इतना बढ़ा की सोनू को जिंदगी भर के लिये मौत की नींद सो गया

बतया जाता है करौंदिया निवासी बाबा सिंह के घर से दिबाल में पोताई करने की कुछ समग्री चोरी हुई थी,जहां उन्हीं के घर के सामने से दोपहर में हाथ ठेला से कबाड़ का व्यवसाय करते सोनू गुजरा तब वहाँ मौजूद लोगों ने इस रोक चोरी गये सायमन के बारे में पूछा सोनू ने आसानी से चोरी नहीं काबुल की तो उसे बंधक बनाकर जमकर धुलाई कर दी लेकिन जब सोनू की हालत गम्भीर होने लगी तब सिटी कोतबाली पुलिस के हबाले कर दिया पुलिस ने चोरी की संधिग्ध आरोपी मानकर खातिर दारी कर दी हालत और बिगड़ जाने पर आनन-फानन में सोनू को उपचार के लिए अस्पताल लाया गया तो चिकित्सकों ने मृतक घोषित कर दिया

जिसके बाद गुस्साए मृतक सोनू बंसल के परिजनों ने अस्पताल तिराहे में मृतक का शव रखकर चक्काजाम कर दिया ,मृतक सोनू के साथ मारपीट करने वाले आरोपी सिटी कोतवाली थाना प्रभारी के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया, इस विरोध प्रदर्शन में क्या बुजुर्ग क्या जवान क्या बूढे क्या महिला बच्चे सहित सब के सब पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपना विरोध जताया

इस विरोध प्रदर्शन को समाप्त कराने में जिला प्रशासन को भी 8 घंटे से अधिक का वक्त लग गया लेकिन यह विरोध प्रदर्शन समाप्त नहीं हुआ, मृतक परिजन का आरोप है कि चोरी के आरोप में बाबा सिंह के घर से लोगों द्वारा मारपीट की गई है इसके बाद इसकी हालत गंभीर होने पर कोतवाली लाया गया तो यहां कोतवाली के थानेदार राजेश पांडे द्वारा मारपीट की गई है

जिसके बाद हालत गंभीर होने पर अस्पताल लाए तो तब तक सोनू की मौत हो चुकी थी, हमारी मागे है कि गरीब बेसहारा परिवार पर हुये अत्याचार करने वालों पर कार्यवाही हो और कड़ी कड़ी कार्यवाही हो, पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत ने आनन-फानन में सिटी कोतवाली थाना प्रभारी राजेश पांडे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है और मृतक के साथ मारपीट करने वाले चार आरोपियों के खिलाफ 302 एसटी एससी एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध कर गिरफ्तार कर लिया है

वही कलेक्टर रबीन्द्र चौधरी ने भी इस पूरे मामले में मजिस्ट्रेटियल जांच कराने का फरमान दिया है इतना ही नहीं पीड़ित परिवार को 4लाख 12 हजार मुआवजा राशि दिलाने का भी आश्वासन दिया है।

IMG-20210124-WA0016
RED MOMENTS STUDIO

विज्ञापन

SATNANEWS.NET पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें

Comment here